ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से हुई मौत के मामले में आरोपी चालक की गिरफ्रतारी को लेकर ग्रामीणों ने दिया धरना

 हरिद्वार। कोतवाली रानीपुर क्षेत्रान्गर्त लकड़ी से लदी ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से पूरनपुर साल्हापुर निवासी विनोद कुमार की मौत के मामले में आक्रोशित ग्रामीणों ने रानीपुर कोतवाली में धरना दिया। आक्रोशित ग्रामीणों की ओर से थोड़ी देर तक धरना देने के रानीपुर कोतवाली प्रभारी रमेश सिंह तनवार द्वारा आरोपी चालक की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन देने के बाद धरना दे रहे ग्रामीणों ने धरना समाप्त कर दिया। आश्वासन के बाद ग्रामीण धरने से उठ गए। शनिवार को पूरनपुर साल्हापुर गांव निवासी सैकड़ों लोग ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरकर रानीपुर कोतवाली पहुंचे। आक्रोशित ग्रामीण रानीपुर पुलिस के प्रति रोष प्रकट कर परिसर में धरने बैठ गए। सुरेश पाल,मदनलाल,प्रीतम बर्मन,कंवरपाल,राजेंद्र,संजू,फुरकान अहमद,डॉ.अरविंद बर्मन ,विजेंद्र कुमार,हरपाल सिंह,पिंकू,सतपाल सिंह,मायावती,चंद्रमोहन,राहुल,अंकित,वतन,जय नंद ,रामजीलाल,हरपाल,जगदीश नेगी,मांगेराम,संजय कुमार,अर्जुन,मुनेश कुमार आदि ग्रामीणों का आरोप है कि पचास वर्षीय विनोद कुमार अपने भाई के साथ बाइक से 6 नवंबर को अपने बेटे की शादी के कार्ड बांटकर अपने घर पुरनपुर लौट रहे थे। जैसे ही वह गढ़ मीरपुर के निकट पहुंचे, तो सामने से तेजी और लापरवाही से आ रही लकड़ियों से भरी ओवरलोड ट्रैक्टर-ट्राली ने टक्कर मार दी। हादसे में उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। उनके छोटे भाई जयनंद को गंभीर चोट आ गई थी। इस संबंध में रानीपुर पुलिस ने दो नामजद लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था। लेकिन काफी समय बीत जाने के बावजूद न तो पुलिस ने ट्रैक्टर ट्राली बरामद की है और न ही आरोपी की गिरफ्तारी की है। मृतक के भाई की शिकायत पर नामजद मुकदमा दर्ज होने के बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई। आरोप है कि ट्रैक्टर-ट्राली मालिक और ठेकेदार के खिलाफ नामजद शिकायत की गई थी। बावजूद इसके कोई कार्रवाई आगे नहीं हुई। मजबूरन ग्रामीणों को कोतवाली में धरने पर बैठना पड़ा। कोतवाल रमेश सिंह तनवार के अनुसार मामले में सुमन नगर चौकी इंचार्ज को तत्काल आरोपित ट्रैक्टर चालक की गिरफ्तारी के लिए निर्देशित किया गया है। इस संबंध में कलियर पुलिस का भी सहयोग लिया जा रहा है।