महिला ने की पति पर लगाए गए आरोपों की निष्पक्ष जांच की मांग

 हरिद्वार। कोतवाली रानीपुर पुलिस द्वारा कंपनी में कार्य करने वाली सहकर्मी युवती की ओर से लगाए गए आरोपों के मामले में गिरफ्तार अनिल ठाकुर की पत्नी ने जिलाधिकारी एवं एसएसपी को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है। दिल्ली निवासी महिला ने मुख्यमंत्री से मामले की निष्पक्ष जांच की भी मांग की है। प्रेस क्लब में नीतू निवासी महालक्ष्मी एनक्लेव करवाल नगर नई दिल्ली हाल निवासी रोशनाबाद ने जिलाधिकारी को भेजे पत्र में बताया कि उसके पति अनिल ठाकुर को झूठे मुकदमे में मुख्य आरोपी बनाकर जेल भेज दिया गया। उन्होंने कहा कि उनके पति को झूठा फंसाया गया है। आरोप लगाने वाली युवती उसके पति की फर्म में हिस्सेदारी की मांग कर रही थी। हिस्सेदारी देने से मना करने पर उसने साजिश करके अनिल ठाकुर को फंसाया है। महिला ने मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की जाए। जिससे सच्चाई सामने आ सके।  महिला ने दावा किया कि उसके पति के खिलाफ दर्ज झूठे मुकदमे में अन्य तीन युवकों भी साजिश में शामिल हैं।