वृक्ष होते हैं आक्सीजन बनाने के कारखाने-हरितऋषि विजयपाल बघेल


 हरिद्वार। ‘ट्री ट्रस्ट ऑफ इंडिया‘ व 40 वीं पीएसी बटालियन, उज्जवला के संयुक्त तत्वावधान में सुभाष नगर (रानीपुर) स्थित 40 वीं वाहिनी पीएसी के पुलिस माडर्न स्कूल में बड़े पैमाने पर पौधारोपण कर ‘‘उज्जवल हरिद्वार अभियान‘‘का शुभारंभ किया। इस अवसर पर इमली,नीम, चाँदनी,मोरपंखी,नीबू,गुड़हल,आँवला तथा अन्य अनेकों किस्म के फलदार व छायादार पौधे रोपे गये। इस पौधारोपण कार्यक्रम के लिये प्रयोग किये गये अधिकांश पौधे स्कूल के विद्यार्थी स्वयं अपने साथ लेकर आये थे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पधारे ‘ग्रीनमैन ऑफ इंडिया‘ के नाम से प्रख्यात हरितऋषि विजयपाल बघेल ने बड़ी संख्या में उपस्थित अतिथियों को सम्बोधित करते हुए पौधारोपण करने से प्राणीमात्र को होने वाले लाभ तथा पर्यावरण संतुलन के लिये वृक्षों की आवश्यकता के बारे में बतलाया। उन्होंने कहा कि ‘व्यक्ति भोजन व पानी के बगैर पन्द्रह दिन तक जीवित रह सकता है, परन्तु, आक्सीजन के बिना तीन सैकिंड से ज्यादा जिन्दा नहीं रह सकता। आज के वातावरण में आक्सीजन की जरूरी 21 प्रतिशत मात्रा भी उपलब्ध नहीं है और पेड़ एकमात्र ऐसा कारखाना है जो आक्सीजन बनाता है। उन्होंने कहा कि, ‘‘कोरोना महामारी में सबसे ज्यादा मौतें आक्सीजन की कमी के कारण ही हुईं। यदि आज हमने अधिकतम मात्रा में पौधे नहीं लगाये और इनसे बने वृक्षों की देखभाल नहीं की गयी, तो वह दिन दूर नहीं जब लोगों को आक्सीजन का सिलिंडर कन्धे पर साथ लेकर चलना पड़ेगा। बघेल ने आगे कहा कि हरित, स्वच्छ, सुंदर और प्रदूषण मुक्त बनाकर धार्मिक नगरी हरिद्वार को आध्यात्मिक राजधानी की मान्यता मिले उसके लिए हम सभी को पूरे मनोयोग से समर्पित होने की जरूरत है। उन्होंने सभी से ‘उज्जवल हरिद्वार‘ बनाने के संकल्प को दोहराकर उपस्थित सभी प्रतिभागियों से शपथ दिलवाई। इस अवसर पर सेनानायक दद्दन पाल ने पुलिस मार्डेन स्कूल द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए किए जा रहे रचनात्मक प्रयासों से अवगत कराते हुए बताया कि पूरा वाहिनी परिसर डेंस ग्रीन है और वृक्ष संपदा का बखूबी अनुरक्षण होता है। कहा कि उज्जवल हरिद्वार अभियान के संचालन में बटालियन भरपूर सहयोग कर अग्रणी भूमिका निभायेगी। समाजसेवी जगदीश लाल पाहवा ने अपने उद्बोधन में हरिद्वार को अध्यात्म और स्वच्छता की पहिचान बरकरार रखने के लिए सभी ‘उज्जवल हरिद्वार अभियान‘ में बढ़ चढ़कर भाग लेना चाहिए। उप सेनानायक ने विद्यालय द्वारा किये गये कल्याणकारी कार्यों का ब्यौरा दिया। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय प्रधानाचार्य मनोज भट्ट ने किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से चेतना पथ के संपादक अरुण कुमार पाठक,रंजीत सिंह,निवेदिता सिंह,राजीव खत्री,एस.एस. राणा,विनोद मित्तल,शिविरपाल राजपाल सिंह रावत,सूबेदार सैन्य सहायक विक्रम सिंह भंडारी, सूबेदार क्वार्टर मास्टर पान सिंह,उप-प्रधानाचार्या सीमा सिंह शामिल थे।