नई शिक्षा नीति 21वीं सदी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए छात्रों को पूर्णतः और सक्षम करेगी-डॉ0निशंक

हरिद्वार। बहादराबाद स्थित एंजेल्स एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में बाल दिवस पर नई शिक्षा नीति पर कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ.रमेश पोखरियाल निशंक ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। पूर्व केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि उन्हें खुशी है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति में सभी चुनौतियों का समाधान करने के लिए एक बहुत ही व्यवस्थित और संगठित प्रयास किया गया है,ताकि उच्च शिक्षा के क्षेत्र के समग्र पुनर्गठन को नए भारत की आवश्यकताओं के अनुरूप बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 21वीं सदी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए छात्रों को पूर्णतः और सक्षम करेगी। इसकी मदद से वह अपनी शिक्षा को अधिक अनुभवात्मक, समग्र और एकीकृत, खोज उन्मुख, चर्चा आधारित, लचीला और सुखद बना सकेंगे। पाठ्यक्रम में विज्ञान और गणित के अलावा बुनियादी कला, शिल्प, खेल, भाषा, साहित्य, संस्कृति और मूल्य शामिल होंगे। निशंक ने कहा अर्थव्यवस्था सहित सभी क्षेत्रों में आत्मनर्भिरता का रास्ता शिक्षा और शिक्षा नीति से होकर ही गुजरता है। रानीपुर भाजपा विधायक आदेश चौहान ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति शिक्षा के सभी क्षेत्रों में सुधारों को परिभाषित करती है। प्रधानाचार्या रश्मि चौहान ने कहा कि नई शिक्षा नीति का मुख्य उद्देश्य बच्चे को कुशल बनाने के साथ जिस भी क्षेत्र में वह रुचि रखता हैं, उसी क्षेत्र में उन्हें प्रशिक्षित करना है। इस दौरान शिवालिक नगर पालिकाध्यक्ष राजीव शर्मा,दीपिका शर्मा,पूनम चौहान,पुष्पेंद्र सिंह चौहान,अरुण कुमार,अनुपम जग्गा,बीपी उपाध्याय, विश्ववेंदु सिंह चौहान,रवि चौहान,संजय शर्मा,सुशील बिष्ट,मीनाक्षी शर्मा,रूबी,लवली,सुमन, आशा, गरिमा शर्मा आदि मौजूद रहे।