भर्ती घोटाले,अंकिता की मौत,उत्तरकाशी मे दलित की हत्या के मामले की सीबीआई जांच हो-आर्य

 हरिद्वार। उत्तराखण्ड विधान सभा मे नेता प्रतिपक्ष,कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष यशपाल आर्य ने प्रदेश में भर्ती घोटाले,अंकिता हत्याकांड और अल्मोड़ा-उत्तरकाशी में हुई दलित की हत्या के मामले की सीबीआई जांच और किसानों को फसल बर्बादी का 20 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा देने की मांग की है। यशपाल आर्य ने कहा कि यदि सरकार ईमानदार है, तो इन घटनाओं की सीबीआई जांच कराए। सोमवार को प्रेस क्लब मे पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट के सिटिंग जज की निगरानी में जांच होनी चाहिए। यह बातें नेता प्रतिपक्ष ने हरिद्वार में प्रेस वार्ता के दौरान कहीं। पत्रकारों के सवाल के जबाव में यशपाल आर्य ने कहा कि उत्तराखंड देश का पहला राज्य बन गया है, जहां धांधली, हेराफेरी, घोटाले, धनबल,बाहुबल,सरकारी तंत्र का दुरुपयोग हो रहा है। अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में भर्ती घोटाले हो रहे हैं। अंकिता हत्याकांड में स्पेशल सर्विस की मांग करने वालों को बचाने की कोशिश हो रही है। अल्मोड़ा में दलित की हत्या की जाती है,उत्तरकाशी में दलित बेटी का बलात्कार होने के बाद अभी तक कोई नेता परिजनों से मिलने नहीं पहुंचा। अल्मोड़ा और उत्तरकाशी दोनों घटनाओं में परिजनों को सरकार मुआवजा दे।