सनातन वैदिक ज्ञानपीठ की स्थापना के लिये हर हिन्दू यथाशक्ति अधिकाधिक दान करे-श्रीमहंत स्वामी नारायण गिरी

 


हरिद्वार। शिवशक्ति धाम डासना के जीर्णोद्धार व सनातन वैदिक ज्ञानपीठ की स्थापना के लिये भिक्षा हेतु यात्रा कर रहे महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी महाराज शनिवार को श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमहंत स्वामी नारायण गिरी जी महाराज का आशीर्वाद लेने श्रीदुधेश्वर नाथ मठ पहुँचे, जहाँ उन्होंने देवाधिदेव भगवान महादेव शिव और गणपति महाराज का पूजन किया। श्रीदुधेश्वर नाथ मठ में श्रीमहंत स्वामी नारायण गिरी जी महाराज ने महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी का भावभीना स्वागत किया और उन्हें उनकी भिक्षा में इक्यावन हजार रुपये प्रदान करते हुए कहा कि वो आजीवन समय समय पर सनातन वैदिक ज्ञानपीठ को हर तरह का सहयोग करते रहेंगे। उन्होंने हिन्दू समाज का आह्वान करते हुए कहा कि सनातन वैदिक ज्ञानपीठ की स्थापना समय की मांग है क्योंकि आज समाज को लाखों करोड़ों नरसिंहानंद की जरूरत है जो आवश्यकता पड़ने पर धर्म के लिये मिट जाए।सम्पूर्ण संत समाज विशेष रूप से श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा यति नरसिंहानंद गिरी जी के साथ है। आज समय की आवश्यकता है कि हर हिन्दू सनातन वैदिक ज्ञानपीठ की स्थापना हेतु यथासम्भव अधिक से अधिक दान करे ताकि यह कार्य जल्दी से जल्दी पूर्ण हो सके। उनके आशीर्वाद से अभिभूत महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी महाराज ने उनसे कहा कि मेरे लिये आपका आशीर्वाद साक्षात देवाधिदेव महादेव शिव का ही आशीर्वाद है। उनके आशीर्वाद पाकर यह सुनिश्चित हो गया है कि अब शिवशक्ति धाम डासना का जीर्णोद्धार भी होगा और सनातन वैदिक ज्ञानपीठ की स्थापना भी होगी। आज की भिक्षा यात्रा में महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी के साथ पण्डित बी के शर्मा ‘हनुमान‘,नीरज त्यागी, अक्षय त्यागी व सोनू त्यागी एडवोकेट भी साथ थे।