दलित छात्र की हत्या के मामले मे भीम आर्मी ने मॉगों को लेकर महामहिम को भेजा ज्ञापन

 हरिद्वार। भीम आर्मी एकता मिशन के कार्यकर्ताओं ने राजस्थान में दलित छात्र की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई और पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा। गुरुवार को भीम आर्मी एकता मिशन और आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ता विकास भवन रोशनाबाद के सामने मैदान में एकत्रित हुए। यहां से पैदल मार्च कर जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। भीम आर्मी एकता मिशन के प्रदेश अध्यक्ष महक सिंह ने कहा कि आजादी के 75 साल बाद भी देश के अंदर छुआछूत आज भी हावी है। आजादी के बाद भी बहुजन समाज आजाद नहीं हुआ है। सरकार बड़े-बड़े दावे कर रही है। ऐसी स्थिति में अगर आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और उनकी जायज मांग पूरी नहीं होती है तो आजाद समाज पार्टी और भीम आर्मी एकता मिशन भारत बंद का ऐलान करने को बाध्य होगी। आजाद समाज पार्टी सचिव तेज प्रताप सैनी ने कहा कि छोटे बच्चे के साथ इतनी मारपीट करना हैवानियत दर्शाता है। प्रदेश उपाध्यक्ष रवि तेगवाल ने कहा कि भीम आर्मी एकता मिशन और आजाद समाज पार्टी अभी केवल अधिकारियों को अपना मांग पत्र दे रही है। अगर समय रहते हुए इस पर कार्रवाई नहीं हुई तो आंदोलन करने के लिए सड़कों पर उतर आएंगे। बच्चे के परिवार को बतौर मुआवजा एक करोड़ रुपये, एक सरकारी नौकरी और उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने के साथ ही आरोपी शिक्षक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है। इस दौरान प्रवीण सूर्या, मोनू राणा, जिला अध्यक्ष सुनील मोगा, जिला महासचिव विनोद मेघवाल, राहुल गौतम, अर्जुन, धर्मेश मोरिया आदि मौजूद थे।