पारम्परिक श्रद्वा उल्लास के साथ मनाया श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

 हरिद्वार। तीर्थनगरी में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है,कुछ श्रद्वालुओं ने गुरूवार को श्रीकृष्णजन्मोत्सव मनाया तो वही कई स्थानों पर शुक्रवार को पूरे हर्षोल्लास  पारम्परिक श्रद्वा के साथ श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। नगर मे कई स्थानों पर विशेष तौर झॉकियॉ सजाई गयी,गुरूवार को इस्कॉन की ओर से शुभारंभ पैलेस में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया गया। कान्हा के जन्म लेते ही श्रद्धालुओं ने जयघोष के साथ ही आतिशबाजी व पटाखे छूटने शुरू हो गए। मंदिरों में अपने मधुर भजनों से वातावरण को भक्तिमय बना दिया। उधर जिला कारागार परिसर में जन्माष्टमी का पर्व श्रद्धाभाव से मनाया गया। इस अवसर पर भजन-कीर्तन के साथ ही रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए गए। नगर के हर गली व मुहल्लों में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया गया। व्रती महिलाओं ने व्रत रखकर भगवान श्रीकृष्ण की पूजन-अर्चन कर सुख-समृद्धि के लिए कामना किया, वहीं बच्चों और युवाओं ने अपने-अपने घरों में कई मनोहारी झांकियों को सजाकर भगवान का जन्मोत्सव बड़े ही उल्लास से मनाया। बड़ा अखाड़ा में भी भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। शहर में सजाई गई श्रीकृष्ण की लीलाओं सहित कई अन्य प्रकार की भव्य झांकियों का नजारा देखने शाम के समय दर्शकों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। एक से बढ़कर एक सजी भव्य झांकियों को देखने के लिए बड़ों की अपेक्षा बच्चे काफी उत्साहित नजर आ रहे थे। रेलवे स्टेशन पर बनाई गई झांकी को देखने के लिए लोग दूर-दूर से पहुंचे।