गंगा दशहरा स्नान पर्व को लेकर डीएम व एसएसपी ने दिए जरूरी निर्देश


 सुरक्षा के दृष्टिगत मेला क्षेत्र को 4 सुपर जोन, 16 जोन व 37 सेक्टर बांटा 

हरिद्वार। गुरूवार को होने वाले गंगा दशहरा स्नान पर्व को शान्तिपूर्ण सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन ने तैयारियां मुक्कमल कर ली है। गंगा दशहरा स्नान पर्व के लिये सम्पूर्ण मेला क्षेत्र को चार सुपर जोन, 16 जोन तथा 37 सेक्टर में बांटा गया है। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय एवं डीआईजी डाॅ0योगेन्द्र सिंह रावत ने मेला ड्यूटी में तैनात समस्त जोनल,सेक्टर मजिस्ट्रेट,पुलिस अधिकारियों से कहा कि जिस तरह से आपने सोमवती अमावस्या पर्व को सकुशल सम्पन्न कराया, उसी तरह से गंगा दशहरा स्नान पर्व को भी गंभीरता से लेते हुये सकुशल सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पिछले सोमवती स्नान पर्व को गंगा घाटों में श्रद्धालु काफी देर तक गंगा में डुबकी लगा रहे थे, जिसकी वजह से कई श्रद्धालुओं को काफी देर तक इन्तजार करना पड़ रहा था। बुधवार को ऋषिकुल आयुर्वेदिक कॉलेज के सभागार में आयोजित बीफ्रिंग मे जिलाधिकारी ने कहा कि स्नान के समय यह ध्यान रखा जाये कि श्रद्धालु स्नान करने में अधिक समय न लगाये, इसके लिये वहां पर जिस तरह की भी व्यवस्थाओं की आवश्यकता हो, वह बनाई जाये। उन्होंने मजिस्ट्रेटों को निर्देशित किया कि वे आपसी समन्वय बनाये रखें तथा उन्हें जो पहचान पत्र जारी किये गये हैं, उन्हें प्रदर्शित करके रखें। आकस्मिकता प्लान का जिक्र करते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि इसका अध्ययन व निरीक्षण जरूर कर लें ताकि कोई आकस्मिकता आने पर आप तुरन्त दी गयी व्यवस्था के अनुसार कदम उठा सकेंश्री विनय शंकर पाण्डेय ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि वे विगत अमावस्या स्नान पर्व की तरह ही जहां-जहां एम्बुलेंस तैनात की गयी थी, वहां-वहां एम्बुलेंस तैनात करें तथा अस्पतालों में पर्याप्त जीवन रक्षक दवायें तथा अन्य अवस्थापना सम्बन्धी सुविधाओं का मौका-मुआयना करते हुये सभी व्यवस्थायें चुस्त-दुरूस्त रखना सुनिश्चित करें। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 योगेन्द्र सिंह रावत ने ब्रीफिंग में, विगत सप्ताह सकुशल सम्पन्न हुये सोमवती अमावस्या स्नान पर्व के लिये सभी को बधाई दी। उन्होंने होम वर्क का जिक्र करते हुये कहा कि जिस स्थान पर आपकी ड्यूटी लगी है,उस स्थान पर आपको किन-किन चीजों की आवश्यकता होगी, उसका जायजा पहले से ही ले लें तथा उसी अनुसार अपनी व्यवस्थायें पूरी रखें। उन्होंने कहा कि जितना अच्छा होम वर्क होता है, कार्य का संचालन भी उतनी ही अच्छी तरह होता है तथा आपकी ताकत दस गुना बढ़ जाती है। डॉ0 योगेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि जहां-जहां डायवर्जन है, वहां-वहां पर आपको हर समय सक्रिय रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ऐसी व्यवस्था बनायें कि सभी घाटों में श्रद्धालु पहंुचें तथा मुख्य-मुख्य घाटों पर ही भीड़ जमा न हो। परिस्थितियों के अनुसार अपने विवेक व अनुभव से जहां पर जैसा निर्णय लेना है, उस अनुसार निर्णय लीजिये। ब्रीफिंग में एस0पी0 ट्रैफिक ने गंगा दशहरा स्नान पर्व के मद्देनजर तैयार की गयी योजना एवं व्यवस्थाओं आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी पी0एल0 शाह, सिटी मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार सिंह, एसडीएम पूरन सिंह राणा,एसडीएम भगवानपुर वैभव गुप्ता,एसडीएम लक्सर गोपाल राम बिनवाल, एस0पी0 सिटी स्वतंत्र कुमार,सचिव रेडक्रास डॉ0 नरेश चैधरी सहित पुलिस तथा प्रशासन के सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।