अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का खुलासा,तीन आरोपियो कब्जे से आठ दोपहिया वाहन बरामद

 हरिद्वार। थाना भगवानपुर पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर आरोपितों के कब्जे से आठ दोपहिया वाहन बरामद किए हैं। जबकि गिरोह के एक सदस्य की तलाश जारी है। एसएसपी ने गिरोह का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है। इस सम्बन्ध मे सोमवार को भगवानपुर थाना में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि सिमलाना निवासी अमन फैक्ट्री कर्मी है। 12 अप्रैल 2022 को औद्योगिक क्षेत्र से उसकी बाइक चोरी हो गई थी। वहीं 12 मई 2022 को हकीमपुर तुर्रा गांव निवासी शिवकुमार की बाइक किशनपुर से चोरी हो गई थी। पुलिस ने दोनों बाइकों की चोरी का मुकदमा भगवानपुर थाने में दर्ज किया था। एसपी देहात ने बताया कि भगवानपुर पुलिस सोमवार को चानचक तिराहा पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान पुलिस ने दो अलग-अलग बाइकों पर आ रहे तीन युवकों को रोक लिया। पुलिस ने वाहनों के कागजात मांगे तो वह इधर-उधर की बात करने लगे। शक होने पर पुलिस इन्हें थाने ले आई। पूछताछ में पता चला कि इनके पास जो बाइक है, वह चोरी की है। दोनों ही बाइकों की चोरी के मुकदमे भगवानपुर थाने में दर्ज है। पूछताछ में आरोपितों ने अपने नाम दीपक निवासी आभा, थाना गागलहेड़ी, जिला सहारनपुर, आकाश और सूरज निवासीगण भलस्वागाज, थाना झबरेड़ा बताया। आरोपितों ने अपने एक और साथी ऋषभ निवासी आभा थाना गागलहेड़ी, सहारनपुर का नाम बताया। ऋषभ पकड़े गए आरोपित दीपक का भाई है। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर कुंजा गांव में एक घर से चोरी की एक स्कूटी और पांच बाइक बरामद की है। एसपी देहात ने बताया कि आरोपितों पर उप्र के गागलहेड़ी, देहरादून के पटेलनगर, क्लेमनटाउन, भगवानपुर थानों में कई मुकदमे दर्ज है। दूसरी ओर प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि पकड़े गए वाहन चोर गिरोह सदस्यों पर पुलिस गैंगस्टर लगाने की तैयारी कर रही है। पुलिस आरोपितों से अन्य घटनाओं के बारे में जानकारी जुटा रही है।