नई शिक्षा नीति पर दो दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षक कार्यशाला का आयोजन

 हरिद्वार। मायापुर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज में नई शिक्षा नीति पर दो दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के प्रथम दिन का शुभारंभ आर्य सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज रुड़की के प्रधानाचार्य अमरदीप सिंह, शमा अग्रवाल,गुरुकुल कांगड़ी विवि के पूर्व रजिस्ट्रार दिनेश भट्ट,विद्यालय के सह प्रबंधक कपिल गोयल,भारतीय शिक्षा समिति उत्तराखंड के प्रदेश निरीक्षक डॉ विजयपाल सिंह,शिशु मंदिर मायापुर के प्रधानाचार्य करनेश सैनी और विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य अजय सिंह ने सामूहिक रूप से मां सरस्वती के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि दिनेश भट्ट ने सभी को शिक्षा जगत में हो रहे परिवर्तनों के बारे में अवगत कराया। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति में सरस्वती विद्या मन्दिर के विद्यालयों का बहुत योगदान है। उसके बाद कार्यशाला के प्रथम सत्र में अमरदीप सिंह ने स्किल एजुकेशन विषय पर संबोधित किया। कार्यशाला के दूसरे सत्र में शमा अग्रवाल ने लर्निंग पर सभी को संबोधित किया। कार्यशाला के तीसरे सत्र में विद्यालय के आचार्य शैलेन्द्र रतूड़ी ने सीखने के प्रतिफल विषय पर सभी को प्रस्तुतीकरण दिया। कार्यशाला के चतुर्थ सत्र में सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज धर्मपुर, देहरादून के प्रधानाचार्य अखिलेश वर्मा ने लर्निंग ओटोकामस पर सभी को संबोधित किया। इसके पश्चात कार्यशाला के प्रथम दिन के अंतिम चरण पर विद्यालय के आचार्य भूपेंद्र और अभिषेक काण्डवाल ने नई शिक्षा नीति पर बनाई गई पीपीटी का प्रेजेंटेशन दिया। कार्यशाला में विद्यालय का समस्त स्टाफ उपस्थित रहा।