उपभोक्ता आयोग ने बिल्डर को दिए प्लाट की कीमत,6वर्ष का किराया 12लाख देने के आदेश

 हरिद्वार। जिला उपभोक्ता आयोग ने बिल्डर को प्लॉट की कीमत के एवज में 8 लाख 62 हजार रुपये छह प्रतिशत वार्षिक ब्याज की दर से देने, विशेष क्षतिपूर्ति एक लाख व वाद खर्च के रूप में दस हजार रुपये शिकायतकर्ता को अदा करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा शिकायतकर्ता के किराये के रूप में 15 हजार रुपये प्रति माह की दर से 6 वर्ष का किराया 12 लाख 60 हजार रुपये शिकायतकर्ता को अदा अदा करने के आदेश भी दिए हैं। शिकायतकर्ता नीलम श्रीवास्तव पत्नी अनिल श्रीवास्तव निवासी लक्ष्मण चैक नियर महिला आश्रम देहरादून ने नागपाल एसोसिएट के डायरेक्टर राकेश नागपाल पुत्र प्रकाश चंद निवासी विकास कॉलोनी रानीपुर मोड़ के खिलाफ जिला उपभोक्ता आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायतकर्ता  ने बताया था कि उसने मार्च 2015 में स्थानीय बिल्डर से एक प्लॉट खरीद किया था। शिकायतकर्ता ने उक्त प्लाट का तीन लाख रुपये में क्रय किया था। बिल्डर ने शेष सात लाख रुपये प्लॉट के चारों और सड़क व नाली निर्मित करने के लिए शिकायतकर्ता से लिए थे। कई वर्ष  बीत जाने के बाद भी बिल्डर ने प्लॉट के चारों ओर न तो सड़क का निर्माण कराया और न ही नालियों का निर्माण कराया था। जिस पर शिकायतकर्ता को अपने प्लॉट में 22 से 23 लाख खर्च कर दो मंजिला भवन निर्माण कराने के बाद भी रास्ता व नाली का सुविधा नहीं मिली थी। इसके बाद शिकायतकर्ता महिला अपने मकान में निवास नहीं कर पाई व देहरादून में किराये के मकान में 15 हजार रुपये प्रति महीना लेकर रहना पड़ा।