सभी को उल्लसित कर देते हैं होली के रंग-महंत रविपुरी


 हरिद्वार। प्राचीन हनुमान मंदिर में आयोजित होली मिलन कार्यक्रम में श्रद्धालु भक्तों ने महंत रविपुरी के सानिध्य में पारंपरिक उल्लास के साथ होली मनायी। इस दौरान भगवान शंकर एवं माता पार्वती, महाकाली की वेशभूषा में कलाकारो ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। राधा कृष्ण की वेषभूषा में सजे कलाकरों के साथ श्रद्धालुओं ने फूलों की होली और धार्मिक गीतों की धुनकर जमकर थिरके। इस अवसर पर होली की शुभकामनाएं देते हुए महंत रवि पुरी ने कहा कि रंगों से सजा सनातन संस्कृति का प्रमुख पर्व होली सभी को उल्लसित कर देता है। होली के उल्लास से भगवान भी बच नहीं पाए। भगवान श्रीकृष्ण भी अपने भक्तों के साथ होली खेलते थे। उन्होंने कहा कि पाश्चात्य संस्कृति से बचते हुए सनातन संस्कृति के अनुरूप होली मनाएं और सभी को प्रेम का संदेश दें। यही होली पर्व की सार्थकता है। इस अवसर पर अंकित पुरी,पुष्पेंद्र शर्मा,अंकित पटेल,बाल मुकुंद शर्मा, बिपिन धस्माना,राहुल कुमार,पीयूष जाटव, गगन शोडी, अंकुर गोयल, बीना शर्मा, पंबल शर्मा, गरिमा शर्मा,कोमल शर्मा, ऋषि सिंह, विनीत भारद्वाज, पंकज शर्मा,नीरज कुमार,अमित गुप्ता, सुरभि गुप्ता आदि मौजूद रहे।