सपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पद से इस्तीफा दिया

 हरिद्वार। विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की हार से आहत होकर सपा नेता महंत शुभम गिरी ने पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी पद से इस्तीफा दे दिया। पार्टी की हार से आहत होकर उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष डा.सत्यनारायण सचान को त्यागपत्र सौंपा। उन्होंने कहा कि 2022 विधानसभा चुनाव में सपा हरिद्वार जनपद से एक सीट तक जीतने में नाकाम रही। राज्य गठन के बाद हुए पहले लोकसभा चुनाव में हरिद्वार लोकसभा सीट जीतने के साथ पार्टी ने कई चुनावों में अच्छा प्रदर्शन किया। जनपद में हुए पंचायत चुनावों में पार्टी अच्छा प्रदर्शन करती रही है। लेकिन 2022 के विधानसभा चुनाव में पार्टी कोई कमाल नहीं कर पाई। स्वर्गीय अमरीश कुमार के सपा छोड़कर जाने के बाद से पार्टी उबर नहीं पाई। इसके अलावा स्वर्गीय विनोद बड़थ्वाल के निधन से भी पार्टी को बड़ा नुकसान हुआ। महंत शुभम गिरी ने कहा कि उन्होंने केवल प्रदेश कार्यकारिणी पद से त्यागपत्र दिया है। वे पार्टी में बने रहेंगे और पार्टी को मजबूत करने के लिए संघर्ष करेंगे। यदि पार्टी ने मौका दिया तो जिला पंचायत चुनाव में सपा को मजबूत करने का काम करेंगे। उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, प्रदेश प्रभारी राजेंद्र चैधरी, यूपी की पूर्व दर्जाधारी मंत्री आभा बड़थ्वाल, प्रदेश महासचिव डा.राजेंद्र पराशर का आभार प्रकट करते हुए कहा कि जो जिम्मेदारी उन्हें दी गयी थी उसे निभाने में असमर्थ रहे। लेकिन उन्होंने जनहित से जुड़े तमाम मुद्दों को उठाया और आगे भी जनहित से जुड़े मुद्दों का उठाते रहेंगे।