’’सखी बहिनपा मैथिलानी समूह इकाई हरिद्वार ने धूमधाम से मनाया होली मिलन

 


हरिद्वार। होली का रंग महिला सखियों पर जमकर चढ़ा। मस्ती की उमंग में महिलाएं जमकर थिरकी। सभी सखियों ने एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। हर्ष और उल्लास के माहौल में सभी सखियां ने जमकर लुफ्त उठाया और एक दूसरे को बधाई देकर विदाई ली। गौरतलब है कि सखी बहिनपा मैथिलानी समूह इकाई हरिद्वार के तत्वावधान में आयोजित होली मिलन समारोह में समूह की सखियों ने जमकर होली का आनंद लिया।कार्यक्रम में पहली बार देहरादून की सखियां भी शामिल हुई। कार्यक्रम की शुरुआत में सभी सखियों ने एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाकर सभी अपनी शुभकामनाएं दी। लंबे अरसे के मिलन को लेकर सभी सखियों के चेहरे पर अलग ही रंगत देखने को मिली। हंसी ठिठोली के साथ सखियों ने मैथिली गीतों पर नृत्य और गायन प्रस्तुत किया। इस मौके पर कार्यक्रम संयोजक प्रीति झा ने बताया कि सखी बहिनपा मैथिलानी समूह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं का संगठन है। दरभंगा निवासी आरती झा ने संगठन की नींव रखी थी। वर्तमान में लाखों महिलाएं संगठन की सदस्य हैं। संस्थापक आरती झा स्वयं अमेरिका में रहकर मिथिला संस्कृति को संजोए हुए हैं। इसी प्रकार देश विदेश में संगठन से जुड़ी महिलाएं होली, दीपावली, छठ सहित अन्य धार्मिक पर्वों पर कार्यक्रम का आयोजन करती चली आ रही है।  उन्होंने कहा कि हरिद्वार लंबे अरसे के बाद भव्य होली के आयोजन किया गया। इसको लेकर सभी सखियां काफी उत्साहित थी और सभी सखियों ने जमकर होली की मस्ती का आनंद लिया। रश्मि झा ने कहा सभी सखियां ने नृत्य गायन कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया। मैथिली में होली पर आधारित कविता का गायन किया गया। हास्य और व्यंग से कार्यक्रम में भरपूर आनंद की छटा बिखरी रही। सभी सखियों ने कार्यक्रम का भरपूर आनंद लिया। किरण झा ने कहा कि पहली बार नई सचिव से भी मिलने का अवसर मिला। वाणी झा ने कहा कि होली मिलन को सभी सदस्यों ने व्यापक स्तर पर तैयारी की थी और अब कार्यक्रम का सफल आयोजन होने के बाद राहत की सांस ली। कार्यक्रम के अंत में सभी सखियों ने चाट पकौड़ी का भी आनंद लिया। होली  मिलन में राखी सखी,किरण सखी, मोनी सखी प्रीति सखी, पिंकी सखी,आरती सखी, वाणी सखी, रंजना सखी,निधि सखी, ज्योति सखी, श्वेता सखी(देहरादून), रजनी सखी(देहरादून), संगीता सखी(देहरादून), प्रिया सखी(देहरादून), रश्मि सखी, प्रतिभा सखी, रीना सखी, खुशबू सखी, नीतू सखी, मुन्नी सखी, मीनाक्षी सखी, नीलम सखी, अन्नु सखी सहित अन्य सखियां शामिल रही।