खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने मैन्यूफैक्चरिंग यूनिटों में की छापेमारी,360लीटर खाद्य तेल नष्ट

 हरिद्वार। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने शहर की विभिन्न मैन्युफैक्चरिंग यूनिट से आठ खाद्य पदार्थों के सैंपल भरे। एक मैन्युफैक्चरिंग यूनिट में खाद्य तेल की गुणवत्ता सही न पाए जाने पर 360 लीटर खाद्य तेल को भी नष्ट कराया गया। सभी सैंपल लैब में जांच के लिए भेज दिए गए हैं। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी आरएस पाल ने बताया कि बुधवार को खाद्य सुरक्षा उपायुक्त उपायुक्त राजेंद्र कठायत के नेतृत्व में छापेमारी करते हुए शहर के कईं स्थानों पर छापेमारी करते हुए खाद्य पदार्थों की मैन्युफैक्चरिंग यूनिटों से छह खाद्य तेलों के सैंपल लिए गए। जबकि मिर्च और धनिया का एक एक सैंपल लिया गया। बताया कि श्री नैना इंडस्ट्रीज सिडकुल, आरबीएस स्पाइसिस, महावीर ऑयल और कुमार ऑयल मिल्स से खाद्य तेल और मसालों के सैंपल लिए गए हैं। श्री नैना इंडस्ट्रीज में प्रथम दृष्टया खाद्य तेल की गुणवत्ता सही ना पाए जाने पर 360 लीटर खाद्य तेल भी नष्ट कर आ गया है। निरीक्षण के दौरान इन मैन्युफैक्चरिंग यूनिट में साफ सफाई की व्यवस्था उचित में पाए जाने पर मैन्युफैक्चरिंग यूनिट के संचालकों को नोटिस जारी कर जवाब भी मांगा गया है, यदि इनके द्वारा मैन्युफैक्चरिंग यूनिट में साफ सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं की गई तो इनके लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई भी की जा सकती है। इसी के साथ यदि इन मैन्युफैक्चरिंग यूनिट से लिए गए सैंपल मानकों के अनुसार सही नहीं पाए जाते हैं तो इनके खिलाफ वाद दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर फूड सेफ्टी ऑफिसर संदीप मिश्रा, कपिल देव, संतोष सिंह, अरविंद कुमार आदि मौजूद रहे।