नगर में धूमधाम से निकाला गया नगर कीर्तन,जगह जगह लोगों ने किया पुष्पवर्षा कर स्वागत

 हरिद्वार। सिक्ख धर्म के पहले गुरु गुरु नानक देव की 552 वीं जयंती के उपलक्ष्य में धूमधाम के साथ नगर कीर्तन निकाला गया। बीएचईएल से शुरू हुआ नगर कीर्तन ललतारो पुल स्थित गुरुद्वारा पहुंचकर संपन्न हुआ। जगह-जगह लोगों ने नगर कीर्तन का फूलों की बारिश से स्वागत किया। रविवार शाम को भेल स्थित गुरुद्वारा से नगर कीर्तन का शुभारंभ किया गया। नगर कीर्तन बीएचईएल से होते हुए भगत सिंह चैक, चंद्राचार्य चैक, ऋषिकुल, देवपुरा और रेलवे रोड, शिवमूर्ति चैक होते हुए ललतारो पुल के समीप स्थित गुरुद्वारा पहुंचकर संपन्न हुआ। गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी के साथ पंज प्यारे अगुआई करते हुए चल रहे थे। नगर कीर्तन में पूरे रास्तेभर गतका पार्टी ने तलवार बाजी के साथ ही हैरतंगेज करतब दिखाकर लोगों को दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर कर दिया। भाजयुमो के प्रदेश महामंत्री हरजीत सिंह ने नगर कीर्तन का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि यह पर्व समाज के हर व्यक्ति को साथ में रहने, खाने और मेहनत से कमाई करने का संदेश देता है। प्रकाश उत्सव के उपलक्ष्य में प्रभातफेरी भी निकाली जाती है। जिसमें भारी संख्या में संगतें भाग लेती हैं। कीर्तनी जत्थे कीर्तन कर संगत को निहाल करते हैं। इस दौरान मनमोहन सिंह, हरमोहन सिंह तनेजा, रिंपल सिंह, सुखदेव सिंह, बलवीर सिंह मल्होत्रा, जवाल सिंह सेठी, हरभजन सिंह, जसविंदर सिंह, विक्रम सिंह सिद्धू, दलजीत सिंह, हरप्रीत सिंह, रोबिन सिंह, गुरजीत सिंह, हर्षवर्धन सिंह, रुपिंदर सिंह आदि शामिल रहे