गंगा स्नान के दौरान एक और व्यक्ति डूब गया

 हरिद्वार। कोतवाली नगर क्षेत्रान्गर्त सप्तऋषि क्षेत्र के परमार्थ आश्रम गंगा घाट पर शनिवार को भी एक व्यक्ति गंगा स्नान के दौरान डुब गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस तलाश में जुटी हुई हैं। इसी घाट पर चैबीस घंटे में दूसरा हादसा घटित हुआ। शुक्रवार को इसी घाट पर स्नान के दौरान लापता संस्कृत छात्र रवि मिश्रा का अभी तक अता पता नहीं चल सका था कि शनिवार को शांतिकुंज का एक स्वयं सेवक भी गंगा स्नान के दौरान डूब गया। सूचना मिलने के बाद दिन भर जल पुलिस को साथ लेकर सप्तऋषि चैकी पुलिस सर्च ऑपरेशन चलाने में जुटी रही। मूलरूप से महाराष्ट्र के जिला नन्दूबाग निवासी पेशे से इंजीनियर योगेश पाटिल 35 वर्ष पुत्र राजाराम अपनी पत्नी के संग यहां शांतिकुंज में स्वयं सेवक के तौर पर रह रहे हैं। शनिवार को पत्नी के साथ वह परमार्थ आश्रम गंगा घाट पर नहाने के लिए गए थे। गंगा घाट पर उन्होंने जब डुबकी लगाई, उसके बाद बाहर ही नहीं आए। पत्नी ने शोर मचाया। गंगा घाट पर मौजूद लोग एकत्र हो गए। शौकिया गोताखोरों ने स्वयंसेवक को तलाश किया लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। घटना की सूचना मिलने पर सप्तऋषि चैकी प्रभारी प्रवीण सिंह रावत मौके पर पहुंच गए। आनन फानन में जल पुलिस को बुलाकर रॉफ्ट से सर्च ऑपरेशन शुरू कराया गया, लेकिन कुछ अता पता नहीं चल सका। इस बीच शुक्रवार को इसी घाट पर डूबे छात्र रवि मिश्रा का भी कोई सुराग नहीं मिला है। सप्तऋषि चैकी प्रभारी प्रवीण रावत के. अनुसार शांतिकुंज के स्वंय सेवक एवं छात्र की जल पुलिस के साथ खोजबीन जारी है।