परिजनों से बिछुडा बालक बहादराबाद टोल प्लाजा पर मिला

 हरिद्वार। कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर्व के दौरान परिजनों से बिछुडे दस साल के बच्चे को पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की मदद से तलाश करते हुए बहादराबाद टोल प्लाजा से बरामद कर लिया। गुमशुदा बालक को खोज निकालने में छुट्टी पर चल रहे एक कांस्टेबल की भूमिका अहम बतायी जा रही है। पुलिस ने बरामद बालक को उसके परिजनों के सुपूर्द कर दिया। खोये बच्चे के वापस मिलने पर परिजनों ने पुलिस का आभार जताया है। कोतवाली नगर प्रभारी निरीक्षक राकेन्द्र सिंह कठैत ने बताया कि कार्तिका पूर्णिमा पर काशी नगरिया बिलारी मुरादाबाद यूपी निवासी अमित अपने परिवार के साथ स्नान के लिए हरिद्वार आए थे। हरकी पैड़ी पर स्नान के दौरान उनका दस साल का बेटा शेखर बिछुड गया। जिसकी परिजनों ने अपने स्तर पर तलाश की। सफलता नहीं मिलने पर परिवार ने हरकी पौडी चैकी पहुंचकर जानकारी दी। जिसपर पुलिस परिजनों से बिछुडे बच्चे की तलाश में जुट गयी। इसी दौरान कोतवाली नगर में तैनात आरक्षी शशिकांत त्यागी जोकि छुट्टी पर चल रहा था। वह भी अपने परिजनों के साथ स्नान के लिए हरकी पौडी पहुंचा था। जब उसको बच्चे की गुमशुदगी की जानकारी लगी तो छुट्टी होने के बाबजूद उसने अपने परिजनों को स्नान के बाद वापस घर भेज दिया। और खुद पुलिस के साथ लापता बालक की तलाश में जुट गया। कोतवाल श्री कठैत ने बताया कि आरक्षी शशिकांत त्यागी ने हरकी पौडी से लेकर बहादराबाद तक सीसीटीवी कैमरों को खंगालते हुए आखिर टोल प्लाजा के पास लापता बालक को सकुशल बरामद कर लिया। जिसकी जानकारी परिजनों को दी गयी। जिसके बाद परिजन कोतवाली पहुंचे जहां पर लापता बालक को परिजनों के सुपूर्द कर दिया। पुलिस अधिकारियों ने आरक्षी शशिकांत त्यागी के ड्यूटी के प्रति जज्बे को देखते हुए उसकी पीठ थपथपाई है।