देवस्थानम बोर्ड भंग नहीं करने पर मुख्यमंत्री कार्यालय पर धरना देने की चेतावनी


 हरिद्वार। समाजवादी पार्टी प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य महंत शुभम गिरी ने कहा कि मुख्यमंत्री के 30 अक्तूबर तक देवस्थानम बोर्ड भंग किए जाने के आश्वासन के बावजूद अब तक बोर्ड को भंग नहीं किया गया है। बोर्ड को लेकर अधिकारियों व तीर्थ पुरोहितों की समिति गठित की गयी थी। लेकिन सरकार के रवैये को देखते हुए तीर्थ पुरोहितों ने कमेटी कर दिया था। देवस्थानम् बोर्ड को लेकर पूरे तीर्थ समाज में रोष है। बोर्ड का गठन कर सरकार ने सीधे तीर्थ पुरोहितों के हितों पर कुठाराघात करने का काम किया है। महंत शुभम गिरी ने कहा कि सपा तीर्थ पुरोहितों के आंदोलन में उनके साथ है। तीर्थ पुरोहितों के समर्थन में जल्द ही मुख्यमंत्री कार्यालय के समक्ष धरना दिया जाएगा। सरकार ने यदि जल्द से जल्द देवस्थानम् बोर्ड को भंग नहीं किया तो मुख्यमंत्री का घेराव करने से भी सपा कार्यकर्ता पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि हिंदुओं की हमदर्द बनने वाली भाजपा सरकार हिंदू समाज के हितों पर ही कुठाराघात कर रही है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार जल्द से जल्द बोर्ड को भंग नहीं करती है तो अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक हरिद्वार में भूसमाधि के लिए संतों को आज तक भूमि नहीं दिला पाए। ना ही फूल मंडी का निर्माण कराया गया और बीस साल के कार्यकाल में नगर निगम कार्यालय का निर्माण करवा पाए।