स्वामी रामदेव ने इण्डियन आॅयल की ओर से पेश कम्पोजिट सिलेन्डर का किया शुभारंभ


 हरिद्वार। इंडियन ऑयल कारपोरेशन ने उत्तराखण्ड में कम्पोजिट सिलेन्डर का शुभारंभ पतंजलि योगपीठ में स्वामी रामदेव व आचार्य बालकृष्ण के कर-कमलों के द्वारा किया। इस अवसर पर इंडियन ऑयल मानव संसाधन के निदेशक रंजन कुमार ने बताया कि उत्तराखण्ड पहाड़ों पर बसा हुआ प्रदेश है जहाँ महिलाओं के कष्ट को ध्यान में रखकर इस कम्पोजिट सिलेन्डर को बनाया गया है। यह सिलेन्डर कम्पोजिट 10 किग्रा. का प्लास्टिक रूप में है जो कि काफी हल्का होता है। इस सिलेन्डर को पहाड़ों की महिलायें आसानी से उठाकर एक जगह से दूसरी जगह ले जा पाएँगी। यह सिलेन्डर हल्का होने के साथ-साथ सुरक्षित भी है। स्वामी रामदेव ने इस कम्पोजिट सिलेन्डर को देश की महिलाओं को समर्पित करते हुए कहा कि यह सिलेन्डर इतना हल्का-फुल्का है कि इसे आसानी से घर में इधर-उधर रखा जा सकता है और जिस स्थान पर इसे रखा जायेगा, उस स्थान पर किसी भी प्रकार का कोई दाग-धब्बा भी नहीं पड़ेगा। इंडियन ऑयल की इस पहल के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि आज उन्होंने उज्जवला योजना के माध्यम से 10 करोड़ घरों में गरीब परिवारों में अपनी जगह बनाई है। इंडियन ऑयल जिस निष्ठा, ईमानदारी से देश की सेवा में लगा हुआ है, जो देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूत करने में अपना सहयोग दे रहा है। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि इंडियन ऑयल ने महिलाओं की पीड़ा को समझा, इसके लिए उनका धन्यवाद क्योंकि पहाड़ का जीवन बड़ा कठिन होता है। पहाड़ों में महिलाओं को भी सिलेन्डर कंधों पर उठाकर चलना पड़ता है। आज इंडियन ऑयल ने समय के साथ खुद को बदला। इस पहल के कारण देश एक कदम ओर आत्म-निर्भर भारत की दिशा में आगे बढ़ा है। कार्यक्रम में राजकुमार दूबे (कार्यकारी निदेशक), प्रभात वर्मा-उप महाप्रबंधक रिटेल सेल्स, मोहन्दर कुमार-चीफ मैनेजर एल.पी.जी. सेल्स के अलावा जिले के सभी पैट्रोल पम्प,गैस एजेन्सी के मालिक एवं उनका समस्त स्टॉफ इस कार्यक्रम में उपस्थित रहा।