भगवान राम के राजतिलक के साथ संपन्न हुई रामलीला

 


हरिद्वार। बड़ी राम लीला की आयोजक श्रीरामलीला कमेटी रजि.ने रविवार को श्रीरामलीला भवन में भव्य रुप में सजाए गए राम दरबार मे राजगुरु वशिष्ठ के सानिध्य में राम राज्याभिषेक कर श्रीरामलीला मंचन की पूर्णाहुति की। श्रीरामलीला कमेटी ने कई वर्षों बाद अपनी पुरानी परंपरा का शुभारंभ करते हुए भगवान राम के अयोध्या पहुंचने पर भरत-राम मिलाप का भी आयोजन किया। हर की पैड़ी पर रामलीला के पदाधिकारियों तथा व्यापारी एवं गणमान्य नागरिकों ने भगवान राम का भव्य स्वागत किया, भरत ने बैंड बाजों के साथ हर की पैड़ी से रामलीला भवन तक शोभायात्रा के रूप में राम, लक्ष्मण, सीता का स्वागत कर उनको राज दरबार तक लाए। श्रीराम दरबार में भगवान श्रीराम को सीता के साथ राज गद्दी पर आसीन कर गुरु वशिष्ठ ने राजतिलक किया। तत्पश्चात श्रीरामलीला कमेटी के समस्त पदाधिकारी एवं सदस्यों ने भगवान का राजतिलक कर रामराज्य का सपना साकार किया। इससे पूर्व वैदिक मंत्रोचार के साथ श्रीराम दरबार का राजसीय पूजन हुआ तथा मंगल गीतों की स्वर ध्वनि से पूरा वातावरण राममृय हो गया। आयोजकों ने राम राज्याभिषेक का प्रसाद वितरित कर इतने बड़े अनुष्ठान के सकुशल सकुशल संपन्न होने पर एक दूसरे को बधाई देते हुए आस्थावान दर्शकों का भी आभार व्यक्त किया। भगवान श्रीराम का राजतिलक कर आरती उतारने वालों में प्रमुख थे श्री रामलीला कमेटी के अध्यक्ष विरेंद्र चड्ढा,सुनील भसीन, महामंत्री महाराज कृष्ण सेठ,मुख्य दिग्दर्शक भगवत शर्मा मुन्ना,रविकांत अग्रवाल, रविंद्र अग्रवाल,डॉ संदीप कपूर, प्रेस प्रवक्ता विनय सिंघल ,महेश गौड़, अनिल सुखीजा, राहुल वशिष्ठ ,पवन शर्मा ,सुनील वधावन ,ऋषभ मल्होत्रा ,मनोज बेदी ,वीरेंद्र गोस्वामी, रमन शर्मा ,विशाल गोस्वामी ,दर्पण चड्ढा, रमेश खन्ना,अंकित शर्मा,गोपाल छिब्बर ,मयंक मूर्ति भट्ट तथा हरद्वारी लाल सहित संपूर्ण कार्यकारिणी ने भगवान श्री राम का राजतिलक कर रामलीला संपन्न कराई।