सुंदरी शूर्पनखा ,रावण दरबार तथा सीता हरण की लीला का मंचन

 


हरिद्वार। श्रीराम लीला कमेटी रजि. द्वारा जूना अखाड़ा एवं नगर कोतवाली के निकट आयोजित हो रही बड़ी रामलीला में आज पंचवटी, सुंदरी शूर्पनखा ,रावण दरबार तथा सीता हरण की लीला का मंचन किया गया। श्री रामलीला कमेटी ने दिखाया कि त्रिया हठ हो या अन्य किसी प्रकार की हठधर्मिता ,विवाद और विनाश का कारण बनती है। रामलीला का मंचन देखने पहुंचे रानीपुर विधायक आदेश चैहान ने मर्यादित प्रेरणादायी दृश्य एवं अनुशासित मंचन की मुक्त कंठ से सराहना करते हुए श्रीरामलीला संपत्ति कमेटी के तत्कालीन अध्यक्ष स्वर्गीय श्री राममूर्ति वीर सहित सभी संस्थापकों को नमन किया। श्रीरामलीला कमेटी के मुख्य दिग्दर्शक भगवत शर्मा मुन्ना ,वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुनील भसीन एवं महामंत्री महाराज कृष्ण सेठ के निर्देशन में पंचवटी से प्रारंभ मंचन में सूर्पनखा का राम लक्ष्मण के प्रति सम्मोहन उसकी नाक कटने का कारण बना ,जबकि सीताजी का हिरन के प्रति लगाव एवं लक्ष्मण रेखा पार कर रावण को भिक्षा देना उनके हरण का कारण बना। रामलीला का दर्शन न केवल पुरुषों ,बल्कि मातृशक्ति को भी प्रेरणा देता है कि वे पारिवारिक मान्यताओं का पालन करें तो उनका जीवन सुखद एवं निष्कलंक बनेगा। सूर्पनखा के प्रपंच के कारण ही भगवान श्रीराम ने खर-दूषण का वध किया और रावण ने मारीच के साथ मिलकर स्वयं साधु वेश धारण कर सीता हरण किया। सीता की रक्षा करने में जटायु अन्याय के विरुद्ध संघर्ष करते हुए वीरगति को प्राप्त हुआ। लीला मंचन में जिन पात्रों ने उत्कृष्ट अभिनय किया उनकी सभी दर्शकों ने मुक्त कंठ से प्रशंसा की जिनमें प्रमुख हैं राम का अभिनय कर रहे साहिल मोदी, लक्ष्मण का अभिनय कर रहे सुनील शर्मा, सीता के अभिनय में मोहित गिरी तथा रावण की पात्रता का निर्वाह करने वाले मनोज सहगल के मंचन को सभी दर्शकों ने करतल ध्वनि से सराहा। रामलीला में पात्रों के अभिनय एवं दृश्यों को मौलिकता प्रदान करने में जिनका योगदान रहा उनमें कमेटी के अध्यक्ष वीरेंद्र चड्ढा ,संपत्ति कमेटी के मंत्री रविकांत अग्रवाल, मंत्री डॉ संदीप कपूर ,प्रेस प्रवक्ता विनय सिंघल ,कोषाध्यक्ष रविंद्र अग्रवाल ,रमन शर्मा, अनिल सखूजा, पवन शर्मा,राहुल वशिष्ठ,विरेन्द्र गोस्वामी, दर्पण चड्ढा ,विशाल गोस्वामी ,सुरेंद्र अरोड़ा ,रमेश खन्ना तथा ऋषभ मल्होत्रा का योगदान सराहनीय रहा। रंगमंच का संचालन विनय सिंघल एवं डॉ. संदीप कपूर ने संयुक्त रूप से किया। मंगलवार को अशोक वाटिका ,हनुमान रावण संवाद एवं लंका दहन की लीला का मंचन किया जाएगा।