चारधाम यात्रा प्रारम्भ होने से टैªवल्स व्यवसायी उत्साहित

 हरिद्वार। प्रदेश में चारधाम यात्रा के प्रारम्भ होने पर नगर के ट्रेवल्स व्यापारी काफी उत्साहित हैं। यात्रा खुलने के बाद रोजाना चारधाम यात्रा के लिए देश के कई प्रदेशों से श्रद्धालु संपर्क साधकर बुकिंग भी कर रहे हैं लेकिन अभी रवाना हो रहे श्रद्धालुओं की संख्या कुछ खास नहीं है। ट्रेवल्स कारोबारियों का मानना है कि एसओपी में कुछ बदलाव करने की राज्य सरकार को विचार करने की आवश्यकता है। शनिवार को भी हरिद्वार से करीब पंद्रह-बीस यात्री वाहन चारधाम यात्रा के लिए रवाना हुए। ट्रेवल कारोबारियों ने साफ किया कि वे आरटीपीसीआर रिपोर्ट एवं वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र के बिना एक भी यात्री की बुकिंग नहीं ले रहे हैं। केरल, महाराष्ट्र एवं आंध्रप्रदेश से आने वाले श्रद्धालुओं का आरटीपीसीआर टेस्ट होना आवश्यक है ऐसे में स्वास्थ्य विभाग को एक अलग स्थान केवल श्रद्धालुओं के लिए ही चयनित करना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है तो श्रद्धालु यहां वहां भटकते रहेंगे और चारधाम यात्रा पर भी उसका असर पड़ सकता है। ट्रेवल्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुमित श्रीकुंज का कहना है कि श्रद्धालुओं की सीमित संख्या में बढ़ोतरी करना ठीक रहेगा, इस पर राज्य सरकार को फैसला लेना चाहिए। श्रद्धालुओं की आरटीपीसीआर रिपोर्ट या उनके वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कोई संपर्क नहीं साधा है। रजिस्ट्रेशन के लिए जिस पोर्टल पर आवेदन करना है उसका संचालन भी बेहतर तरीके से होना जरुरी है।