ब्रह्मलीन श्रीमहंत नरेंद्र गिरी को श्रद्धांजलि


 हरिद्वार। हनुमान घाट पर महंत रविपुरी महाराज के सानिध्य में युवाओं ने दो मिनट का मौन रखकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष  ब्रह्मलीन श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज को श्रद्धांजली दी और उनकी शिक्षाओं का अनुसरण करते हुए समाज की सेवा करने का संकल्प लिया। श्रद्धांजलि देते हुए महंत रविपुरी महाराज ने कहा कि त्याग व तपस्या की प्रतिमूर्ति श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज का आकस्मिक निधन सनातन धर्म के लिए गहरा आघात है। सनातन संस्कृति व धर्म के प्रति उनका समर्पण तथा समाज सेवा में उनका योगदान सदैव स्मरणीय रहेगा। सभी को उनके दिखाए मार्ग का अनुसरण करते देश व समाज की सेवा में योगदान करना चाहिए। यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने कहा कि सरकार को उनकी मौत की उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलानी चाहिए। श्रद्धांजलि देने वालो में पुष्पेंद्र शर्मा, पीयूष जाटव, नितिन गुप्ता, गगन सोढ़ी, नवनीत कुमार, सुधीर शर्मा, गोपाल पटवर, विक्की मित्तल, सिम्मी सिंह, अंकित पुरी,  विपिन, भारत भूषण, तुषार रावत, विजय कश्यप, हिमांशु गुप्ता, नीरज शर्मा, मुकुल कश्यप, दीपक कश्यप, अमन डोलरिया, अमित गुप्ता, अंकुर गोयल, गौरव शर्मा आदि शामिल रहे।