वरिष्ठ नागरिकों ने की मिलावटखोरी रोकने की मांग

 हरिद्वार। वरिष्ठ नागरिक सामाजिक संगठन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर मिलावटखोरी पर रोक लगाने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने के दौरान संगठन के अध्यक्ष चैधरी चरण सिंह ने कहा कि निरंतर महंगे होते आटा, तेल, घी, दूध आदि सहित तमाम जरूरी चीजों में मिलावट के चलते आम लोगों को दोहरा नुकसार उठाना पड़ रहा है। मिलावटी खाद्य पदार्थो के सेवन से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता निरंतर कम हो रही है। मिलावट की वजह से लोग नई-नई बीमारियों को शिकार हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी द्वारा प्रतिदिन उपभोग किए जाने वाले दूध में मिलावट जोरो पर है। मिलावटी दूध व इससे बनने पदार्थो का सेवन कर लोग बीमार हो रहे हैं। मिलावट रोकने के लिए खाद्य सुरक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए जाएं। अधिक से अधिक संख्या में दूध के सैम्पलों की जांच की जाए तथा जांच के नतीजे समाचार पत्रों में प्रकाशित करने के साथ मिलावट खोरों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। जिससे मिलावट के प्रति जनता जागरूक हो तथा मिलावट करने वालों में भय उत्पन्न हो। ज्ञापन देने वलों में विद्यासागर गुप्ता, बाबूलाल, पीसी धीमान, चैधरी चरण सिंह, योगेंद्र पाल सिंह राणा, गिरधारी लाल शर्मा, हरीश चंद्र सिंह, गुलाब राय, सीताराम, श्याम सिंह, महेंद्र सिंह, जगदीश शरण सक्सेना, नरेशचंद काला, वीसी भाटिया, रामजतन प्रसाद, आरबी शर्मा, सुखबीर सिंह, जेपी गुप्ता आदि वरिष्ठ नागरिक शामिल रहे।