विद्युत कर्मचारी अधिकारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा का विरोध प्रदर्शन

 हरिद्वार। ज्वालापुर विद्युत वितरण खंड कार्यालय पर उत्तराखंड विद्युत कर्मचारी अधिकारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने जन जागरण के तहत बैठक का आयोजन किया। इसके बाद कर्मचारियों ने नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। सरकार से हुए समझौते का क्रियान्वयन करते हुए आदेश जारी न करने पर छह अक्तूबर से फिर हड़ताल करने की चेतावनी दी है। वक्ताओं ने कहा कि 27 जुलाई को विद्युत कार्मिकों की हड़ताल के बाद सरकार से हुए समझौते और इसके बाद कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कार्मिकों को आश्वस्त किया था कि उनकी सभी मांगों पर एक माह के अंदर आदेश जारी कर दिए जाएंगे। जिसके बाद हड़ताल को स्थगित कर दिया गया था। लेकिन समझोते का क्रियान्वयन नहीं हुआ। जिससे मोर्चा को दोबारा आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। कहा कि मोर्चा की ओर से लगातार अपने सदस्यों के बीच जाकर प्रदेश के विभिन्न जनपदों, मंडलों में जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है। शाम पांच बजे से सुबह 10 बजे तक सरकारी मोबाइल बंद कर शासन की वादाखिलाफी के विरोध में अपना आक्रोश भी दिखा रहे हैं। जल्द सरकार ने आदेश जारी नहीं किया तो छह अक्टूबर से पुनः हड़ताल करने को बाध्य होंगे। बैठक की अध्यक्षता अश्वनी कुमार ने व संचालन सन्नी गोस्वामी ने किया। इस दौरान अधिशासी अभियंता अरविंद कुमार, एई संदीप शर्मा, सन्नी गोस्वामी, अनुज जुड़ीवाल, कमल सिंह, नीरज कुमार, हयाद सिंह बोहरा, शालिनी चैहान, प्रियंका, आलोक चैहान आदि शामिल रहे।