सरकार की योजनाओं का लाभ देने के लिए विभाग समन्वय से कार्य करें-डाॅ0सैनी

पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष ने विभिन्न विभागों के साथ की बैठक


 हरिद्वार। उत्तराखण्ड अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग की अध्यक्षा डाॅ0 (श्रीमती) कल्पना सैनी एवं उपाध्यक्ष संजय नेगी ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार रोशनाबाद में अन्य पिछड़ा वर्ग समुदाय के सम्बन्ध में विभिन्न विभागों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में ओबीसी वर्ग के लिए जारी होने वाली छात्रवृत्ति, जाति प्रमाण पत्र निर्गत किये जाने के सम्बन्ध में आने वाली समस्याओं, बैकलाग के पदों की सूचना, वैक्सीनेशन आदि के सम्बन्ध में विस्तार से चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि जाति प्रमाण पत्रों को जारी करने में संबंधित अधिकारी अनावश्यक विलम्ब न करें तथा नियमानुसार कार्य करें। केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का भरपूर लाभ वास्तविक लाभार्थियों को मिले, इसके लिए पारदर्शितां से कार्य करें उन्होंने कहा कि जनपद हरिद्वार ओबीसी बहुल क्षेत्र है, पिछड़ा वर्ग आयोग का प्रयास है कि जनपद के ओबीसी समाज को केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ शत-प्रतिशत रूप से मिले, इसके लिए विभिन्न विभाग आपसी समन्वय एवं शिविर लगाकर कार्य करें। बैठक में जिला उद्यान अधिकारी नरेन्द्र यादव ने उद्यान विभाग द्वारा संचालित राष्ट्रीय बागवानी मिशन के अंतर्गत किसानों को दी जा रही सुविधाओं, पाॅलीहाउस, ट्रेक्टर की खरीद आदि पर मिलने वाले अनुदान संबंधी विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि लाभार्थिंयों को धनराशि का भुगतान सीधे उनके खाते में किया जा रहा है। अध्यक्षा श्रीमती सैनी ने डेयरी, पशुपालन, कृषि, मत्स्य, महिला कल्याण, श्रम विभाग, शिक्षा विभाग, पशु चिकित्सा, चिकित्सा, जलसंस्थान, पर्यटन आदि विभागों द्वारा संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी ली। डा0 सैनी ने कोरोना काल में चिकित्सा, पुलिस विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों द्वारा किये गये कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिन विभागों ने कोरोना काल में फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य किया है, वह बधाई के पात्र हैं। अध्यक्षा ने चिकित्सा विभाग को कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत आवश्यक सभी तैयारियां रखने के भी निर्देश दिये। आयोग के उपाध्यक्ष संजय नेगी ने कहा कि सभी संबंधित विभाग केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं की स्थिति की लिखित सूचना उपलब्ध करा दें तथा योजनाओं के क्रियान्वयन में यदि किसी प्रकार की समस्या आ रही है तो आयोग को सूचित करंे, जिससे उसका निराकरण किया जा सकें। बैठक में एसएसपी सैंथिल अबुदई कृष्णराज एस0, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार, अपर जिलाधिकारी प्रशासन बी0के0 मिश्रा, एसडीएम गोपाल सिंह चैहान, एसडीएम भगवानपुर स्मृता परमार, सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, सहायक परियोजना निदेशक नवनीत घिल्डियाल, डीपीआरओ रमेश चन्द्र त्रिपाठी, सहायक निदेशक मत्स्य अनिल कुमार, सहायक निदेशक डेयरी पीयूष आर्य एवं ओबीसी आयोग के सचिव शेखर प्रकाश पटवा, विपिन सिंह राणा, श्रीमती विजय लक्ष्मी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।