पुलिस,जागरूकता समिति व विधिक प्राधिकरण की ओर से नशे एवं साइबर क्राइम पर वेबिनार

 हरिद्वार। भारतीय जागरूकता समिति द्वारा पुलिस, जिला विधिक प्राधिकरण हरिद्वार के सोजन्य से डीपीएस रानीपुर मे नशे एवं साइबर क्राइम पर वेबिनार का आयोजन किया गया। जिसमे एसएसपी सेंथिल अबुदई, जिला विधिक प्राधिकरण के सचिव/जज अभय सिंह तथा हाईकोर्ट के अधिवक्ता ललित मिगलानी उपस्थित रहे। वेबिनार में बच्चो ने भी प्रतिभाग किया। समिति के अध्यक्ष व अधिवक्ता ललित मिगलानी ने छात्र-छात्रों को छात्राओ को नशे से सम्बंधित कानून की जानकारी देते हुए बताया कि नशा किस काम करता है, और किस प्रकार नशे के आदि व्यक्ति को नशे से बचाया जा सकता है। उन्होंने बच्चो को साइबर क्राइम के बारे मे भी विस्तार पूर्वक बताया। जानकारी देते हुए ललित मिगलानी ने बताया कि वाट्सएप्प एवं फेसबुक का इस्तेमाल सावधानी पूर्वक करना चाहिये। अक्सर देखा जाता है की कई लोग फोन कर लोगो से क्रेडिट, डेबिट कार्ड, एकाउंट नंबर, पिन नंबर, पैन नंबर आदि की डिटेल मांगते है। यदि तरह का कोई फोन आता है तो कभी भी कोई जानकारी फोन करने वाले को नहीं देनी चाहिए। बच्चों की मोज मस्ती व अपराध मे बहुत कम फर्क होता है। इसलिए सोशल मीडिया एप का इस्तेमाल बेहद सावधानी से करना चाहिए। छात्राओ को जानकारी देते हुए बताया की यदि उन्हें कोई परेशानी होती है तो तुरंत 100 या 1090 नंबर अपनी शिकायत दर्ज करायें। एसएसपी सेंथिल अबुदेई ने कहा कि हरिद्वार पुलिस अपराध से लड़ने के लिये हमेशा तैयार है और समाज के सहयोग से लोगो की मदद कर रही है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार पुलिस द्वारा नशे के कारोबार की कमर तोड़ दी है कई मामलो में अपराधियों को जेल भेज दिया गया। अब समाज के सहयोग की जरुरत है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि कहीं भी नशे का कारोबार होने पर तुरतं पुलिस को सूचित करें। साइबर अपराध के मामले में तुरंत हेल्पलाइन नंबर 155260 पर सुचना दें। इसके अलावा नजदीकी थाने पर सूचना दें और रिपोर्ट लिखायंे, ताकि उस पर तुरंत कार्यवाही हो सके। जिला विधिक प्राधिकरण हरिद्वार के सचिव अभय सिंह ने विधिक प्राधिकरण के बारे में छात्र छात्रों को विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बताया कि गरीब तबके, एसएसी एसटी, महिलाआंे को मुफ्त विधिक सहायता दी जाती है। उन्हें मुफ्त वकील भी उपलब्ध कराया जाता है। जरुरतमंद व्यक्ति कार्यालय मे प्रार्थना पत्र दे कर सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बच्चो को कानून से सम्बंधित किताबे भी वितरित की। संचालन विनायक गौड़ ने किया। वेबिनार में समिति के विरिष्ठ उपाध्यक्ष नितिन गौतम, आशु चैधरी, सचिव विजेंद्र पालीवाल, अमित चैधरी, अंजली महेश्वरी, कार्यक्रम सचिव शिवानी गौड़, अर्चना शर्मा, अर्चना लोहनी, पूजा शर्मा, विकास प्रधान, विनीत चैहान, नितिन चैहान, मोहित चैधरी, मन्नू शिवपुरी, नेहा मलिक के अलावा अश्विन, अध्या मिगलानी, विपुल, अंकुर, शिवानी, अनुराधा, नेहा, अनंता मिगलानी, अशोक कुमार, अजय सिंह, आदि उपस्थित रहे।