हरकी पैड़ी की पवित्रता भंग करने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

 हरिद्वार। निंरजन पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने हरकी पैड़ी की मर्यादा भंग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस टीम का गठन किए जाने पर डीजीपी अशोक कुमार व एसएसपी सेंथिल अबदुई को साधुवाद देते हुए कहा है कि हरकी पैड़ी देश दुनिया के करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था का प्रमुख केंद्र है। हरकी पैड़ी की मर्यादा व पवित्रता को भंग करने की गतिविधियों को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। नशा कर हरकी पैड़ी पर हुड़दंग करने वालों के खिलाफ पुलिस प्रशासन को सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। जिससे तीर्थ की मर्यादा बनी रहे तथा हुड़दंगियों पर अंकुश लग सके। उन्होंने विभिन्न राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं से भी अपील की कि तीर्थ स्थल पर धर्म के अनुरूप ही आचरण करें। कोरोना महामारी की वजह से कांवड़ यात्रा स्थगित किए जाने के प्रदेश सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी ने कहा कि परिस्थितियों के अनुरूप मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा लिया गया फैसला सराहनीय है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा कोविड की तीसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की जा रही है। ऐसे में किसी भी स्थान पर भारी भीड़ एकत्र होने से महामारी के प्रसार का खतरा है। इसलिए श्रद्धालुओं को अपने घरों में रहकर ही भगवान शिव की आराधना कर कोरोना महामारी की समाप्ति के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। उत्तराखण्ड सरकार व जिला प्रशासन को सभी राज्यों के शिव भक्तों को गंगाजल उपलब्ध कराने में सहयोग करना चाहिए। उन्होंने श्रद्धालु भक्तों को कोरोना महामारी को देखते हुए गुरू पूर्णिमा का पर्व भी सूक्ष्म रूप से मनाना चाहिए तथा केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइड लाईन का पालन करते हुए महामारी का प्रसार रोकने मे सहयोग करना चाहिए।