जनपद में विकास के लिए जिला योजना की बैठक में 47 करोड़ से अधिक का बजट पारित
योजनाओं के क्रियान्वयन में गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं होना चाहिए-यशपाल आर्य


 हरिद्वार। जनपद हरिद्वार के प्रभारी मंत्री यशपाल आर्य ने शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला योजना की बैठक में जिला योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए रुपये 4707.00 लाख का परिव्यय अनुमोदित किया गया। जिसमें सामान्य मद में रूपये 3703.00 लाख, अनुसूचित जाति हेतु रूपये 981.00 लाख एवं अनुसूचित जनजाति हेतु 23.00 लाख की धनराशि विभागवार अनुमोदित की गयी है। वर्ष 2021-22 में जिला योजना के लिए  स्वीकृत परिव्यय रुपये 4707.00 लाख के सापेक्ष रूपये 883.31 लाख रूपये चालू योजनाओं की दायित्वों की पूर्ति हेतु, रूपये 2230.52 लाख वचनबद्ध मदों की पूर्ति हेतु तथा रूपये 1593.17 लाख नई योजनाओं हेतु प्रस्तावित किये गये हैं। जिलाधिकारी सी0 रविशंकर एवं मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार ने जिला योजना की बैठक में वर्ष 2021-22 के लिये निर्धारित परिव्यय-पंचायती राज विभाग के लिये 600.00 लाख रूपये, लोक निर्माण विभाग के लिये 458.51 लाख रूपये, पूल्ड आवास(लोनि0वि0) के लिये 170.00 लाख रूपये, पेयजल निगम के लिये 891.39 लाख रूपये, जल संस्थान के लिये 221.37 लाख रूपये, राजकीय सिंचाई(नहर) के लिये 463.00 रूपये, युवा कल्याण के लिये 980.00 लाख रूपये का परिव्यय प्रस्तुत किया।  इसी तरह वानिकी विभाग, वैकल्पिक ऊर्जा,(उरेडा),सिंचाई विभाग, चिकित्सा विभाग, समाज कल्याण, कृषि, उद्यान, पशुपालन, मत्स्य, दुग्ध, सहकारिता, गन्ना विकास, उद्योग, पर्यटन, अर्थ एवं संख्या, खेलकूद, सूचना, सेवायोजन आदि विभागों के लिये भी निर्धारित परिव्यय प्रस्तुत किया, जिसे चर्चा के पश्चात अनुमोदित किया गया। बैठक में विधायकों ने स्वास्थ्य विभाग के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा की। इस पर यशपाल आर्या ने कहा कि हमारी सरकार स्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जहां कहीं भी अगर कोई कमी नजर आती है, तो आपसी तालमेल स्थापित करते हुये उस कमी को दूर करें। जल जीवन मिशन के तहत हर घर को नल से जल योजना मुख्यमंत्री की घोषणाओं, किसानों से सम्बन्धित प्रकरण, सड़कों को गड्ढामुक्त करना, नालों की सफाई, बरसात में होने वाले जलभराव, ड्रेनेज व्यवस्था को सुदृढ़ करना, किसानों का गन्ना भुगतान, सोलर बोरिंग पम्प आदि के सम्बन्ध में विस्तृत विचार-विमर्श हुआ। बैठक के पश्चात जनपद हरिद्वार के प्रभारी मंत्री यशपाल आर्य ने पत्रकारों से वार्ता करते हुये बताया कि आज जिला योजना के निर्धारित परिव्यय की स्वीकृति हुई है। इसकी अगली बैठक 15 दिन के पश्चात होगी। उन्होंने कहा कि योजनाओं के क्रियान्वयन में गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं होना चाहिए। उन्होंने बैठक में विधायकगणों एवं अधिकारियों द्वारा दिये गये रचनात्मक सुझावों की प्रशंसा की। इससे पूर्व मंत्री यशपाल आर्या का कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचने पर पुष्पगुच्छ भेंटकर भव्य स्वागत किया गया। बैठक में ज्वालापुर विधायक सुरेश राठौर, रानीपुर विधायक आदेश चैहान, रूड़की विधायक प्रदीप बत्रा, विधायक झबरेड़ा देशराज कर्णवाल, भगवानपुर विधायक श्रीमती ममता राकेश, खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैम्पियन, पिरान कलियर विधायक फुरकान अहमद, भाजपा जिलाध्यक्ष जयपाल सिंह चैहान, अध्यक्ष, सफाई कर्मचारी आयोग अमीलाल वाल्मीकि, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार, जिला विकास अधिकारी पुष्पेन्द्र चैहान,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 एस0के0 झा, डी0एफ0ओ0 नीरज कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी पूरण सिंह तोमर, सहायक अर्थ एवं संख्या अधिकारी लख्मीचन्द, मुख्य कृषि अधिकारी वी0के0 सिंह यादव, मुख्य उद्यान अधिकारी नरेन्द्र यादव,लोक निर्माण, सिंचाई, पेयजल, शिक्षा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।