श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े में उतारी गयी धर्म ध्वजा

हरिद्वार। श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े में विधि विधान के साथ कुंभ में स्थापित धर्म ध्वजा उतारकर कुंभ के समापन की घोषणा गयी। इस अवसर पर श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि धर्म के प्रति सभी को जागरूक होकर अपना योगदान देना होगा। हिंदू धर्म की पताका को देश दुनिया में प्रचारित प्रसारित करने का अभियान युद्ध स्तर पर किया जाना चाहिए। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि संत समाज सनातन संस्कृति के प्रचार प्रसार में अपना योगदान हमेशा ही देता चला आ रहा है। उन्होंने कहा कि हिंदू संस्कृति हमेशा ही लोगों को प्रभावित करती है। संगठित होकर हिंदुओं की समस्याओं के निस्तारण में सभी को मिलजुल कर प्रयास करने होंगे। पंडित अधीर कौशिक ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि गंगा गौ रक्षा को लेकर सभी को अपनी सहभागिता निभानी होगी। गौ संरक्षण संवर्द्धन के प्रयास मिलजुल कर ही किए जा सकते हैं। अपनी गौरवशाली परंपरांओं को जीवित रखने के लिए समाज को संगठित रहना होगा। उन्होंने कहा कि भगवान परशुराम के आदर्शो को अपनाकर राष्ट्र की उन्नति में अपना योगदान दें। भगवान परशुराम ने असुरों का विनाश किया। हमें उनके जीवन से पे्ररणा मिलती है। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि पाश्चात्य संस्कृति को हावी नहीं होने देना चाहिए। युवा वर्ग पाश्चात्य संस्कृति से दूर रहे। संत महापुरूषों का सम्मान किया जाना चाहिए। पंडित राम कुमार शर्मा, पंडित सतीश शर्मा, पंडित जेपी बड़ोनी, पंडित मानव शर्मा, पंडित चमन गिरी, पंडित स्वच्छ गिरी, शीतल उपाध्याय आदि मौजूद रहे।