प्रशासन की टीम ने बैरागी कैम्प में अखाड़ो के निर्माण को कराया ध्वस्त

 हरिद्वार। कुम्भ मेला अवधि के दौरान बैरागी कैम्प में वैष्णव सम्प्रदाय के तीनों अखाड़ो द्वारा अवैध निर्माण कराया जा रहा था जिस पर उच्च न्यायालय के आदेश के क्रम में जिला प्रशासन ने भारी पुलिस बल के साथ आज बैरागी कैम्प पहुँच कर अवैध निर्माण को ध्वस्त कराया। कुम्भ पर्व 2021 के दौरान बैरागी संतो द्वारा कुंभ मेला क्षेत्र ज्योति सिंचाई विभाग की जमीन पर बसा हुआ है। आरोप है कि अखाडे द्वारा अवैध निर्माण कराया जा रहा था जिसका संज्ञान लेते हुए और उच्च न्यायालय के आदेश के बाद जिला प्रशासन की टीम शनिवार को अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए बैरागी कैंप में जहां उन्हें बैरागी संतों के खासा आक्रोश का सामना भी करना पड़ा। इस अवसर पर उपमेला अधिकारी अंशुल सिंह ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के क्रम में आज बैरागी कैंप में अवैध निर्माण पर कार्रवाई की गई है जिसमें कोर्ट द्वारा आदेश दिया गया था कि बैरागी कैंप क्षेत्र में बन रहे अवैध निर्माण को जल्द से जल्द ध्वस्त किया जाए वही इस अवसर पर निर्मोही अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत राजेंद्र दास ने कहा कि सरकार में संतो के साथ धोखा किया है। सरकार द्वारा कुंभ मेला 2021 में बैरागी अखाड़ों को पन्या कारों की भांति धन दिया गया था जोकि निर्माण कार्य हेतु दिया गया था जिसके बाद ही यह निर्माण कार्य कराए जा रहे थे, वही आज जिला प्रशासन की टीम ने जिस प्रकार निर्माण के साथ-साथ मंदिर को भी दोस्त करने का कार्य किया है वह निंदनीय है और इसकी जितनी निंदा की जाए वह कम है।