मेलाधिकारी ने किया वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का उद्घाटन

 हरिद्वार । मेलाधिकारी दीपक रावत ने सोमवार को कुम्भ मेला क्षेत्र बैरागी कैम्प में स्थापित, भाभा एटोमिक रिसर्च सेण्टर द्वारा विकसित, वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का फीता काटकर एवं बटन दबाकर उद्घाटन किया। मेलाधिकारी को इस अवसर पर भाभा एटोमिक रिसर्च सेण्टर के वैज्ञानिकों ने पूरे वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट की प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी दी। वैज्ञानिकों ने बताया कि इस ट्रीटमेंट प्लांट की 15 हजार  लीटर प्रतिदिन की शोधन क्षमता है। यह प्लांट चार घण्टे में 1700 लीटर पानी शोधित कर उपलब्ध कराता है तथा इस शोधित किये हुये पानी को गार्डिनिंग आदि में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस ट्रीटमेंट प्लांट की विशेषता यह है कि यह काफी कम जगह में स्थापित किया जा सकता है। इसे होटलों की छत पर भी आसानी से स्थापित किया जा सकता है तथा आवश्यकता पड़ने पर 50 घरों के बीच में एक ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किया जा सकता है। भाभा एटोमिक रिसर्च सेण्टर इस वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का एक साल तक पूरा रख-रखाव करेगा। वैज्ञानिकों ने बताया कि इसके रखरखाव का खर्च बहुत ही कम है। उल्लेखनीय है कि भाभा एटोमिक रिसर्च सेण्टर ने इसके अलावा मेला क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर 11 स्थाई वाॅटर एटीएम भी स्थापित किये हैं, जो हरिद्वार के लिये स्थाई सौगात हैं। इस अवसर पर उप मेलाधिकारी दयानन्द सरस्वती, गंगा अनुरक्षण इकाई के अधिशासी अभियन्ता अजय कुमार, वैज्ञानिक मुकन्दन, अरूण कुमार तिवारी, एक्सपर्ट वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट, डाॅ0 रेखा सिंह सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।