कुम्भ मेला सकुशल सम्पन्न होने पर जूना अखाड़ा के संरक्षक व परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री ने जताया आभार

 हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री एवं श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक श्री महंत हरि गिरी ने कुंभ मेला सकुशल संपन्न होने पर खुशी का इजहार करते हुए प्रधानमंत्री,मुख्यमंत्री के साथ साथ मेला प्रशासन का आभार जताया। उन्होने कहा कि सरकार की दृढ इच्छा एवं मेला प्रशासन के अधिकारियों की लगनशीलता के चलते इस बार विपरीत परिस्थितियों के बावजूद कुम्भ पर्व सकुशल सम्पन्न हुआ है,जो कि ऐतिहासिक है। उन्होने कहा कि पिछले एक साल से विश्वव्यापी महामारी का समय है,ऐसे में कुम्भ मेला सम्पन्न कराना आसान नही है। उन्होने कहा कि हमने एक साल पहले कहा था कि जो भी शासन-प्रशासन का आदेश होगा उसका पालन किया जाएगा इसीलिए आज सांकेतिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ,केन्द्रीय गृहमंत्री अमित भाई शाह जी की इच्छा थी कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अखाड़े से दो-दो संत प्रतीकात्मक स्नान करे। उन्होने कहा कि शासन प्रशासन और मेला प्रशासन के साहस की वजह से आज ऐतिहासिक रूप से मेला संपन्न हुआ है। बताया कि 1938 में जब आपदा आई थी तब मेले को बीच में ही निरस्त कर दिया गया था और यह पहली बार है कि मेला सकुशल अच्छी तरीके से संपन्न हो रहा है ,स्नान में संख्या का महत्व नहीं होता है महत्व है आज के स्नान पर्व का। अखाड़े से एक या दो आदमी भले ही नहाते है लेकिन स्नान का निर्विधन्न सम्पन्न होना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होने कहा कि हम प्रार्थना करते है तो सभी अखाड़े ,देश विश्व सबकी जहान रहे , निरोग रहे,  स्वस्थ रहें और कोरोना वायरस विश्व से गायब हो जाए। उन्होने विषम परिस्थिति में कुम्भ मेला सम्पन्न कराने पर मेला प्रशासन,शासन,प्रधानमंत्री,सभी सहयोग करने वालों का आभार जताया। जूना अखाड़ा के सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज ने भी कुम्भ मेला के अन्तिम शाही स्नान सकुशल सम्पन्न होने पर संतोष जताते हुए कहा कि मेला सम्पन्न कराने में जुटे सभी अधिकारी,कर्मचारी एवं अन्य बधाई के पात्र है। उन्होने कहा कि भगवान दत्तात्रेय जल्दी ही पूरे विश्व से कोरोना वायरस को खत्म कर देगे। कुम्भ मेला सफल होने पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत,पूर्व मुख्यमंख्ी त्रिवेन्द्र ंिसंह रावत,मेलाधिकारी दीपक रावत,मेला आई जी संजय गुज्याल,अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह,डाॅ.ललित नारायण मिश्र,मेला एसएसपी जन्मेजय खण्डूडी सहित सभी अधिकारियों को बधाई देने वालों में अंतरराष्ट्रीय संरक्षक व अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमंत हरिगिरी महाराज अंतर्राष्ट्रीय सभापति श्री महंत प्रेम गिरि महाराज अंतर्राष्ट्रीय सचिव श्री महंत मोहन भारती श्री महंत महेश पुरी, श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि,श्रीमहंत गणपत गिरि,श्रीमहंत सोहन गिरि थानापति नीलकंठ गिरी श्री महंत शिवानंद सरस्वती श्री महंत निरंजन भारती श्री महंत कमल भारती श्री महंत नारायण गिरी अंतरराष्ट्रीय प्रवक्ता जूना अखाड़ा श्री महंत शैलजा गिरी निर्माण मंत्री जूना अखाड़ा श्री महंत संध्या गिरी कोठारी, सहित कई संत शामिल रहे।