जूना अखाड़े में अखाड़ा परिषद महामंत्री ने वैक्सीन लगवाकर की शिविर की शुरूआत

 हरिद्वार। श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक व अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते हुए प्रकोप को देखते हुए आज वृहस्पतिवार को जूना अखाड़े की छावनी में कोविड वैक्सीन के वृहद शिविर की शुरूआत कर दी। कुम्भ मेला 2021 को कोरोना मुक्त व सकुशल सम्पन्न कराने के उददे्श्य से श्रीमहंत हरिगिरि महाराज की पहल पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.एस.के.झा के निर्देश पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0अजय कुमार वैक्सीन की छह सदस्यीय टीम लेकर जूना अखाड़े की छावनी पहुचे। वैक्सीन की शुरूआत श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने लगवाकर की।उनके बाद अन्र्तराष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज,पूर्व सभापति वयोवृद्व सभापति श्रीमहंत सोहन गिरि महाराज,श्रीमहंत उमाशंकर भारती,सचिव श्रीमहंत मोहन भारती,श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि,रााष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमहंत नारायण गिरि,थानापति नीलकंठ गिरि,सचिव श्रीमहंत गणपत गिरि आदि को वैक्सीन लगाकर कैम्प की विधिवत् शुरूआत की गयी। यह शिविर दो दिन तक चलेगा जिसमें अखाड़े की छावनी में रह रहे सभी नागा सन्यासियों व कर्मचारियों को वैक्सीन लगायी जायेगी। श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की सराहना करते हुए कहा कि कोविड के पुनः प्रसार को देखते हुए यह अत्यन्त आवश्यक है। उससे बचने के लिए समय रहते वैक्सीन लगा ली जाय।उन्होने बताया जूना अखाड़े की छावनी व परिसर में रहने वाले प्रत्येक साधु व कर्मचारी को वेैक्सीन अनिवार्य रूप से लगायी जाएगी। वैक्सीनेशन शिविर के समापन के बाद जो भी नागा साधु या भक्त अखाड़े आएंगे,उन्हे वैक्सीनेश्पन का प्रमाण पत्र लाना आवश्यक होगा। उन्होने कहा हम स्वस्थ व सुरक्षित रहेंगे तभी कुम्भ 2021 भी निरापद सम्पन्न हो सकेगा। इसके लिए सरकार तथा प्रशासन द्वारा जारी की गयी गाईड लाईन का हर हाल में पालन किया जायेगा।