कुंभ भव्य रूप से कराने का मुख्यमंत्री का फैसला ऐतिहासिक-श्रीमहंत रविंद्रपुरी

 हरिद्वार। मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत द्वारा जनहित एवं कुंभ मेले को लेकर लिए जा रहे निर्णयों का स्वागत किया है। प्रैस को जारी बयान में श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि संतों का सम्मान करते हुए कुंभ मेले को भव्य रूप से कराने का निर्णय मुख्यमंत्री का ऐतिहासिक फैसला है। सरकार यदि यह फैसला एक माह पहले करती तो आज कुंभ का स्वरूप और ज्यादा भव्य होता। उन्होंने कहा कि अब मेला प्रशासन को मुख्यमंत्री के निर्देशों का पालन करते हुए दिन रात मेहनत कर कुंभ मेले से जुड़ी सभी मूलभूत सुविधाएं संतों को उपलब्ध करानी चाहिए। साथ ही सभी तेरह अखाड़ों के संत महंतों एवं महामण्डलेश्वरों के लिए भूमि का आवंटन जल्द से जल्द कर टेंट एवं शिविर की व्यवस्था को भी लागू करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कुंभ मेले को लेकर पूरे विश्व की निगाहें भारत पर टिकी हैं। करोड़ो श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र तथा सनातन संस्कृति का सबसे बड़ा पर्व कुंभ मेला भव्य रूप से संपन्न होगा तो उसका पूरे विश्व में सकारात्मक धार्मिक संदेश प्रसारित होगा। इस दौरान श्रीमहंत रामरतन गिरी, श्रीमहंत दिनेश गिरी, श्रीमहंत ओंकार गिरी, महंत मनीष भारती, महंत राधे गिरी, महंत नीलकंठ गिरी, महंत नरेश गिरी, दिगंबर गंगा गिरी, महंत केशवपुरी आदि संत मौजूद रहे।