कोविड वैक्सीनेसन अभियान में बढ चढकर सहयोग कर रहे रेड क्रास स्वयंसेवक

 हरिद्वार। जिलाधिकारी सी.रविशंकर के निर्देशन, मुख्य चिकित्साधिकारी डा.एस.के झा के संयोजन में जनपद में कोविड-19 वैक्सीन हेल्थ वर्करस एवं फ्रंट लाइन वर्करस को लगायी जा रही है। ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय में कोविड-19 वैक्सीन के 11 सेन्टर बनाये गये हैं। जिसमे रोजाना कोविड-19 वैक्सीन फ्रन्ट लाइन वर्करस एवं विभागों के अधिकारियों, कर्मचारियों तथा स्वयंसेवकों को कोविड-19 वैक्सीन दी जा रही है। सभी कोविड-19 वैक्सीन सेन्टर पर इण्डियन रेडक्रास के सचिव डा. नरेश चैधरी के नेतृत्व में रेडक्रास स्वयंसेवक बढ चढकर सहयोग कर रहे हैं। इस समय कुम्भ मेले में फ्रन्ट लाईन में कार्य करने वाले विभागों के अधिकारियेां, कर्मचारियों ,स्वयंसेवकों, पुलिस विभाग के अधिकारियों, जवानों तथा अर्द्ध सैनिक बलों के जवानों एवं पत्रकारों को विशेष रूप से कोविड-19 वैक्सीन दी जा रही है। उत्तराखण्ड रेड क्रास के महासचिव डा.एमएस. अंसारी ने  कोविड-19 वैक्सीन सेन्टर का भ्रमण कर रेडक्रास स्वयंसेवकों का उत्साहवर्धन किया। डा.अंसारी ने कहा कि कोरेाना काल के प्रथम दिन से ही अब तक रेड क्रास स्वयंसेवको की जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सक्रिय सहभागिता रही है। रेड क्रास सचिव डा. नरेश चैधरी ने कहा कि ’कोरोना के समय में जनजागरण अभियान, प्रवासियों को उनके गंत्वय स्थान पहुंचवाने, राहत सामग्री वितरण आदि जो भी टास्क जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा रेड क्रास को दिये गये उन सभी में रेड क्रास स्वयंसेवक समर्पित होकर अग्रणी भूमिका में रहे हैं। वैक्सीन भी जरूर लगवानी है वैक्सीन के प्रति अफवाहों को दूर करना है, साथ-साथ कोरोना से बचाव हेतु दो गज की दूरी, मास्क लगाना है जरूरी एवं हाथों को समय समय पर सैनेटाइज करना भी है जरूरी स्लोगन के साथ सभी को प्रेरित किया जा रहा है कि कोरोना समाप्त होने तक लापरवाही नहीं करनी है। रेड क्रास स्वयंसेवकों में डा.अवधेश, सैलजा, पूनम, सलोनी, सागर, दीपक टम्टा, कंचन तितियाल, सोनाली रावत, दीक्षा दुग्तल, कृतिका खैर, अम्बिका मम्गाईं, शिवानी रावत, स्नेहा गोस्वामी, शशांक प्रताप, कुमार संघर्ष, दीपक शर्मा, प्राणेश, उज्जवल, आकाश सिंह, शिवानी यादव, गरिमा चान्याल, प्राची चैहान, मुक्ता जोशी, पंखुरी चावला आदि प्रमुख रूप से सक्रिय सहभागिता कर रहे हैं।