यूपी राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर परियोजना प्रबंधक के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई। बताया जाता है कि मामला उत्तराखंड संस्कृत अकादमी हरिद्वार से जुड़ा हुआ है। उत्तराखंड संस्कृत अकादमी के लेखाकार राधेश्याम ने ज्वालापुर कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि अकादमी में आवासीय परिसर निर्माण के लिए शासन ने दो करोड़ 39 लाख 94 हजार रुपए स्वीकृत किए थे। पूरी रकम उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम को अवमुक्त कर दी गई थी। कई बार मौखिक और लिखित तौर पर निर्देशित करने के बावजूद उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम ने कार्य शुरू नहीं कराया। इस पर संस्कृत अकादमी ने इस बाबत अकादमी के अध्यक्ष और प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश राज्य निर्माण निगम के परियोजना प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी के अनुसार उत्तराखंड संस्कृत अकादमी के लेखाकार राधेश्याम की तहरीर पर उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।