छावनी निमार्ण की तैयारियों का अखाड़े के पदाधिकारियों ने लिया जायजा

 हरिद्वार। श्रीपंचायती निरंजनी तथा श्री आनंद अखाड़े के पदाधिकारियों ने गोविंदपुरी स्थित एसएमजेएस पीजी डिग्री कॉलेज परिसर में स्थापित होने वाली छावनी के निर्माण की तैयारियां का जायजा लिया। शनिवार को दोनों अखाड़ों के पदाधिकारी काॅलेज परिसर पहुचे। 25 फरवरी को निरंजनी और आनंद अखाड़े के रमता पंच एसएमजेएन पीजी डिग्री कॉलेज में तैयार की जा रही अखाड़ों की छावनी में प्रवेश करेंगे। पंचों के प्रवेश से पहले इस छावनी को तमाम सुविधाओं से लैस किया जाना है। चल रही तैयारियों का जायजा लेने शनिवार को निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रवींद्र पुरी कई पंचों और संतों के साथ मौके पर पहुंचे। रविंद्र पुरी ने कहा कि हालांकि छावनी तैयार करने का काम काफी तेजी से चल रहा है लेकिन अभी तक वहां पर न तो शौचालयों की कोई व्यवस्था की गई है, और ना ही पीने के पानी की। क्षेत्र में गड्ढों का अभी तक भराव नहीं किया गया है, जिसके लिए मेला प्रशासन से कहा जा रहा है। पंचों के प्रवेश से पहले व्यवस्थाओं का पूरा होना नितांत जरूरी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि 24 फरवरी की शाम तक यह तमाम कार्य पूरे कर लिए जाएंगे। क्योंकि 25 तारीख को पंच छावनी में प्रवेश करेंगे। इस दौरान उनके साथ आनंद अखाड़े के सचिव श्रीमहंत शंकरानंद सरस्वती, महंत राम रतन गिरी, मनीष भारती, श्रीमहंत नरेश गिरी, श्रीमहंत राधे गिरी, दिगंबर बलबीर पुरी, गंगा गिरि, निलकंठ गिरी, विनोद गिरी, महेश गिरी, अनुज पुरी, नीतीश पुरी, एसएमजेएन पीजी कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्रा आदि शामिल रहे।