निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली व स्कूल खोले जाने के निर्णय को लेकर धरना दिया

हरिद्वार। सुराज सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष रमेश जोशी के संयोजन में पंडित गोविन्द वल्लभ पंत पार्क में निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली व स्कूल खोले जाने के निर्णय को लेकर धरना दिया। धरने को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष रमेश जोशी ने कहा कि कोरोना चरम पर है। ऐसे में स्कूल खोले जाने का निर्णय उचित नहीं है। बच्चों के जीवन से खिलवाड़ करने जैसा कदम उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग लगातार बच्चों व बूढ़ों का घरों में रहने की अपील कर रहा है। स्कूल खुलेंगे तो बच्चों के कोरोना से संक्रमित होने का खतरा रहेगा। रमेश जोशी ने कहा कि निजी स्कूल लगातार अभिभावकों पर फीस वसूली का दबाव बना रहे हैं। शासनादेशों का भी उल्लंघन किया जा रहा है। स्कूल प्रबंधन अभिभावकों के साथ बदसलूकी कर रहा है। आॅनलाईन शिक्षा को बंद करने की धमकी भी दी जा रही है। जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। स्कूल फीस के नाम पर अन्य खर्चे जोड़कर मोटी वसूली किया जाना न्याय संगत नहीं है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को उचित कदम उठाने चाहिए। प्रदेश उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार पर पूर्ण रूप से अंकुश लगना चाहिए। स्कूल फीस के नाम पर अभिभावकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि फीस वसूलने का औचित्य नहीं बनता है। कोरोना काल में सभी लोग आर्थिक तंगी का सामना कर रहे है। ज्योति पंवार ने कहा कि एक तरफ सरकार विदेशी नीतियों की बात करती है। दूसरी तरफ मूलभूत सुविधाएं प्रदान नहीं की जाती हैं। तीन महीने की फीस माफ कर अभिभावकों की जेब को राहत दी जाए। धरना देने वालों में चंद्रप्रकाश जोशी, सचिन, रविन्द्र राणा, विकास धीमान, दीपा, गोविन्द, कामली, द्वारिका, सीमा, टिवंकल, संदीप शर्मा, हरविन्द्र सिंह, कमल गुप्ता, विकास आदि शामिल रहे। 


Popular posts