आत्मरक्षा के बालिकाओं को लेना चाहिए कराटे मिक्स मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण-अमित चैधरी

हरिद्वार। आशिहारा कराटे मिक्स मार्शल आर्ट राज्य प्रमुख अमित चैधरी ने शिवालिक नगर में आयोजित हरिद्वार क्लब की मासिक बैठक में देश में महिला उत्पीड़न व रेप की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताते हुए कहा कि बालिकाओं को आत्मरक्षा के लिए प्रेरित करना चाहिए। बालिकाओं को बौद्धिक व शारीरिक रूप से मजबूत करने की आवश्यकता है। कराटे मिक्स मार्शल आर्ट को अपनाते हुए आत्मरक्षा के गुर सीखे जा सकते हैं। शारीरिक मजबूती नितांत जरूरी है। उन्होंने कहा कि कराटे आत्मरक्षा की परंपरागत कला है। जिसे पूरी दुनिया में अपनाया जाता है। स्कूल कालेजों के माध्यम से भी कराटे मिक्स मार्शल आर्ट प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए। साथ ही स्कूलों के कोर्स में कराटे को अनिवार्य रूप से शामिल किया जाना चाहिए। बैठक में दिनेश कुमार, संदीप पाठक, मंजू सिंह, श्वेता चैधरी, नीतू पुण्डीर, जयप्रकाश शर्मा, ब्रजकिशोर ने अमित चैधरी की प्रशंसा करते हुए कहा कि कराटे मिक्स मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण जनपद भर में अमित चैधरी बालिकाओं को प्रदान कर रहे हैं। बालिकाओं का शरीर मजबूत होगा तो वह किसी भी परिस्थिति से निपट सकेगी। उन्होंने कहा कि कराटे मिक्स मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण प्रत्येक बालिका को लेना चाहिए।