भारत विकास परिषद ने चलाया बृक्षारोपण अभियान

हरिद्वार,। भारत विकास परिषद का स्थापना दिवस पंचपुरी शाखा द्वारा गोविंदपुरी रानीपुर मोड़ पार्क में वृक्षारोपण करके मनाया गया। इस अवसर पर प्रांतीय उपाध्यक्ष बृजप्रकाश गुप्ता ने कहा कि वृक्षारोपण से ही पृथ्वी पर सुखचैन है। मानव सभ्यता के उदय के समय में वह वनों में वृक्षों पर या उनसे ढकी कन्दराओं में ही रहा करता था। वृक्ष वातावरण को शुद्ध व स्वच्छ बनाते है। इनकी जड़ें भूमि के कटाव को रोकती है। प्रांतीय कोषाध्यक्ष जेके मोंगा ने कहा कि आजकल नगरों तथा महानगरों में छोटे-बड़े उद्योग धंधों की बाढ़ से आती जा रही है। इनसे धुआं, तरह-तरह के विषैली गैसें आदि निकलकर वायुमंडल में फैल कर पर्यावरण में भर जाती है। पेड़ पौधे इन विषैली गैसों को वायुमंडल में फैलने से रोक कर पर्यावरण को प्रदूषित होने से रोकते हैं। भारत विकास परिषद पंचपुरी शाखा के सचिव डा.ऊधम सिंह ने कहा कि भारत की संस्कृति एवं सभ्यता वनों में ही पल्लवित तथा विकसित हुई है। वृक्षों की जड़ों से वर्षा ऋतु का जल धरती के अंक में पहुंचता है। यही जल स्त्रोतों में गमन करके हमें अपार जल राशि प्रदान करता है। वृक्षारोपण हमारे जीवन में राहत और सुखचैन प्रदान करता है। रश्मि मोंगा ने कहा कि देश में जहां वृक्षारोपण का कार्य होता है वही इन्हें पूजा भी जाता है। पंचपुरी शाखा के कोषाध्यक्ष हेमंत सिंह नेगी ने कहा जिन वृक्ष की हम पूजा करते है वो औषधीय गुणों का भंडार भी होते हैं। जो हमारी सेहत को बरकरार रखने में मददगार सिद्ध होते हैं। इस अवसर पर डा.हेमवती नन्दन, प्रो.एलपी पुरोहित, डॉ.महेंद्र असवाल, डॉ विपिन शर्मा, द्विजेन्द्र पंत, डा.पंकज कौशिक, डा.राकेश भूटियानी, डा.शिव कुमार चैहान, संजीव मिश्रा इत्यादि उपस्थित रहे।