चिन्हित राज्य आंदोलनकारी समिति ने किया गंगा में दुग्धाभिषेक

 


हरिद्वार। राज्य स्थापना दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर चिन्हित राज्य आंदोलनकारी समिति ने प्रेम नगर आश्रम के निकट अग्रसेन घाट पर गंगा में दुग्धाभिषेक व पुष्प अर्पित कर उत्तराखंड राज्य कर उन्नति और खुशहाली की कामना करते हुए राज्य आंदोलन में शहीद हुए आंदोलनकारियों को नमन किया। इस दौरान मिष्ठान वितरण भी किया गया। इस अवसर पर समिति के जिला अध्यक्ष जेपी बडोनी ने कहा कि समिति राज्य स्थापना दिवस को हमेशा ही बहुत भव्य तरीके से मनाती है। लेकिन राज्य में सरकारी भर्तियों में भ्रष्टाचार और अंकिता हत्याकांड जैसी घटनाओं ने उत्तराखंड राज्य को शर्मसार किया है। इसलिए इस वर्ष सादगी पूर्ण तरीके से राज्य स्थापना दिवस मनाया गया। समिति के संयोजक महेश गोड ने राज्य स्थापना दिवस पर राज्य आंदोलनकरियों की उपेक्षा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। महामंत्री आरएस मनराल ने कहा कि सरकार उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारीयो के साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्षता सूर्यकांत भट्ट और संचालन भीमसेन रावत ने किया। इस अवसर पर कमला पांडे,कमला ढोंढियाल,बसंती पटवाल,साधना नवानी,राधा बिष्ट,यशोदा भट्ट, राजेश गुप्ता,बलबीर सिंह नेगी,आनंद सिंह नेगी, अफजल अल्वी,आरएस मनराल,रामदेव मौर्य, महेश गोड, भीमसेन रावत सूर्यकांत भट्ट,आरएस नेगी आदि उपस्थित रहे।