सभी विभाग आपसी समन्वय स्थापित कर हरिद्वार महोत्सव के आयोजन में जुट जायें-जिलाधिकारी

 


हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में ऋषिकुल मैदान में आयोजित होने वाले प्रस्तावित हरिद्वार महोत्सव-2022 के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित की गयी। मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन ने बैठक में जिलाधिकारी को अवगत कराया कि प्रस्तावित हरिद्वार महोत्सव के आयोजन के लिये समिति तथा उप समितियों-प्रदर्शनी, सांस्कृतिक कार्यक्रम, वित्तीय संचालन, यातायात, स्टेज,स्टाल निर्माण आदि का गठन कर लिया गया है। बैठक में प्रस्तावित हरिद्वार महोत्सव आयोजित करने के लिये कौन सी तिथियों उपयुक्त रहेंगी, के सम्बन्ध में पुनः विचार किया गया,जिसमें विभिन्न पहलुओं को देखते हुये यह तय हुआ कि हरिद्वार महोत्सव का आयोजन आगामी दिसम्बर माह में 10 से 14 दिसम्बर तक (पांच दिन) किया जाये। जिलाधिकारी ने बैठक में प्रस्तावित हरिद्वार महोत्सव के आयोजन के सम्बन्ध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों से उनके द्वारा महोत्सव की तैयारी के सम्बन्ध में क्या कार्यनीति बनाई जा रही है,के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी लेते हुये हरिद्वार महोत्सव के आयोजन में जो अनुमानित बजट है,उसकी व्यवस्था के सम्बन्ध में अब तक कितनी प्रगति हुई आदि के सम्बन्ध में भी विस्तृत चर्चा की। जिलाधिकारी ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रदर्शनी,सांस्कृतिक कार्यक्रम,वित्तीय संचालन उप समितियों सहित सभी समितियां रूपरेखा तैयार करने के लिये कल ही बैठकें आयोजित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी विभाग आपसी समन्वय स्थापित करते हुये प्रस्तावित हरिद्वार महोत्सव के आयोजन में जुट जायें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी(वित्त एवं राजस्व) बीर सिंह बुदियाल,सचिव एचआरडीए उत्तम सिंह चौहान,सिटी मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार सिंह,एसडीएम पूरण सिंह राणा, एमएनए दयानन्द सरस्वती, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी बृजेश तिवारी, एसडीएम रूड़की विजयनाथ शुक्ल, एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार, मुख्य कोषाधिकारी सुश्री नीतू भण्डारी, परियोजना निदेशक विक्रम सिंह, सहायक परियोजना निदेशक सुश्री नलनीत घिल्डियाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 कुमार खगेन्द्र,लीड बैंक मैनेजर संजय सन्त,सचिव रेडक्रास डॉ0 नरेश चौधरी, एआरटीओ सुश्री रश्मि पन्त,आरएम सिडकुल गिरधर रावत,महाप्रबन्धनक उद्योग सुश्री पल्लवी गुप्ता,मुख्य शिक्षा अधिकारी के.के गुप्ता,अधिशासी अभियंता लोक निर्माण सुरेश तोमर, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान मदन सेन,युवा कल्याण अधिकारी मुकेश भट्ट,जिला आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी राजीव कुमार वर्मा,जिला होम्यापैथिक अधिकारी डॉ0विकास ठाकुर,एई एचआरडीए पंकज पाठक सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।