रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर साढ़े नौ लाख की रकम ठग लेने का मामला मुकदमा दर्ज

 हरिद्वार। सीबीआई में खुद को डीएसपी बताकर रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर साढ़े नौ लाख की रकम ठग लेने का मामला सामने आया है। कोर्ट के आदेश पर ज्वालापुर पुलिस ने एक दंपति एवं उनकी रिश्तेदार महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है।कोर्ट को दिए प्रार्थना पत्र में रविश कुमार पुत्र रमेश कुमार निवासी मोहल्ला चौहनान ने बताया कि उसकी जान पहचान लक्ष्मी देवी पत्नी कश्मीर सिंह,उसकी बेटी ज्योति यादव निवासीगण विकास कालोनी से थी। ज्योति यादव ने बताया कि उसका पति राकेश यादव पुत्र सुमेर सिंह यादव निवासी 159ध्9 बसंत कुंज नई दिल्ली स्थाई पता खेडी बांस झाझर हरियाणा सीबीआई में डीएसपी के पद पर तैनात है। उसके ससुर भी संसद के सुरक्षा अधिकारी भी रहे है। मां बेटी ने राकेश यादव की जान पहचान होने का दावा करते हुए उसके भाई प्रशांत कुमार की नौकरी रेलवे में लगवाने का भरोसा दिलाया। तय हुआ कि नौकरी लगने की एवज में साढ़े नौ लाख की रकम अदा करनी होगी। जिसके बाद उन्हें धीरे धीरे रकम दे दी गई। पिछले वर्ष राकेश यादव उसके भाई को नौकरी दिलाने के नाम पर जयपुर राजस्थान ले गया। जहां पहुंचकर पता चला कि रेलवे की भर्ती ही नहीं निकली है। यह भी सामने आया कि राकेश यादव सीबीआई में डीएसपी नहीं है। आरोप है कि रकम वापस मांगने पर उसके साथ गाली गलौच करते हुए हत्या की धमकी दी गई। कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी ने बताया कि इस संबंध में तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।