पूर्ण मनोयोग से आराधना करने वाले पर शिवपरिवार की कृपा बनी रहती है

 


हरिद्वार। श्री प्रेम गिरी बनखंडी आश्रम कांगड़ी हरिद्वार में एक धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन किया गया जूना अखाड़े के सभापति श्रीमहंत प्रेम गिरी जी महाराज के सानिध्य में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर संजय गिरी जी महाराज ने कहा जो भक्त श्रावण मास में भगवान शिव कि सच्चे मन से सच्ची लगन वह आस्था के साथ पूर्णमनायोग से भगवान शिव का अनुष्ठान व आराधना करता है व धर्म कर्म में विश्वास रखते हुए अपने जीवन का निर्वहन करता है। भगवान शिव माता पार्वती भगवान गणेश की सदैव उस पर विशेष कृपा बनी रहती है। उच्च कुल या ब्राह्मण कुल में जन्म लेने से यह तात्पर्य नहीं है कि मनुष्य संस्कारवान हैं जिसके अंदर संस्कार नहीं वह चाहे किसी भी कुल का क्यों न हो वह पशु समान होता है। एक निर्धन गरीब परिवार एक असहाय परिवार में जन्म लेना तथा उच्च संस्कारवान होना बड़े ही सौभाग्य की बात होती है। धन मनुष्य की मनोवृति नहीं बदल सकता किंतु अगर संस्कार अच्छे हैं भगवत ध्यान में लगाने वाले हैं। बड़ों का आदर करने वाले हैं ब्राह्मण तथा संतो का सम्मान करने वाले हैं तथा संतो की संगत करने वाले हैं तो ऐसे मनुष्यों पर भगवान शिव माता पार्वती भगवान गणेश की सदैव विशेष कृपा बनी रहती है। उनका घर सदैव धन-धान्य तथा उच्च संस्कारों से भरा रहता है साथ ही उनके सभी मनोरथ भगवान भोलेनाथ माता पार्वती पूर्ण करते हैं। इस अवसर पर सभापति जूना अखाड़ा श्रीमहंत प्रेम गिरी जी महाराज ने सभी भक्तजनों को अपना आशीर्वाद प्रदान किया। इस अवसर पर श्रीमहंत पूर्ण गिरी जी महाराज श्रीमहंत मनोज गिरी,श्री महंत महेश पुरी सचिव जूना अखाड़ा श्रीमहंत शैलेंद्र गिरी,श्रीमहंत राम गिरि,थानापति भीष्म गिरी, थानापति आदित्य गिरि,थानापति गजानंद गिरी, थानापति दीनदयाल गिरी,थानापति चंद्रकांत गिरी आदिचय गिरी सहित अनेकों संघ वह भक्तजन उपस्थित थे।