नशे के कारोबार पर रोक की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठे युवा

 


हरिद्वार। नशे के कारोबार पर रोक लगाने की मांग को लेकर युवा जागृति विचार मंच के सदस्यों ने बुधवार से सिंहद्वार चौक पर आमरण अनशन शुरू कर दिया है। युवाओं की मांग है कि नशे के कारोबार पूरी तरह रोक लगायी जाए और इस कारोबार से जुड़े लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए। आमरण अनशन पर बैठे युवा जागृति विचार मंच के के सदस्य मनीष चौहान ने बताया कि पूर्व में भी कई बाहर पुलिस और प्रशासन से नशे के कारोबार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जा चुकी है। लेकिन किसी भी स्तर पर कोई भी सुनवाई ना होने के कारण युवाओं को आमरण अनशन पर बैठना पड़ा है। उन्होंने कहा कि नशा समाज के लिए अभिशाप बन गया है। युवा नशे की गिरफ्त में आकर अपना भविष्य बर्बाद करते हैं। इसका सबसे ज्यादा खामियाजा नशा करने वाले युवाओं के परिवार को भुगतना पड़ता है। उन्होंने कहा कि जब तक पुलिस और प्रशासन नशे के खिलाफ कठोर कार्रवाई नहीं करता है तब तक युवाओं का आमरण अनशन जारी रहेगा। इस दौरान मनीष चौहान, प्रवीण शर्मा, विवेक कौशिक,अंकित शर्मा,हिमांशु राजपूत,आकाश,विवेक शर्मा, विशाल भारद्वाज, सुमित, दीपक गौनियाल,आशीष पंवार,नितिन शर्मा, सिद्धान्त रावत, मनीष रावत,मोनू गुज्जर, अभिषेक, कार्तिक, पंकज,तुषार देशवाल,अजय कुमार, आशु मलिक, उज्जवल मलिक,सतपाल सिंह,पंडित अधीर कौशिक, सचिन गौतम,दिनेशचन्द्र जोशी आदि युवा शामिल रहे।