राजस्थान में दलित छात्र की हत्या के विरोध में आप कार्यकर्ताओं ने निकाला कैंडल मार्च

 


हरिद्वार। राजस्थान के जालौर में एक प्राइवेट स्कूल के अध्यापक द्वारा दलित बच्चे को पानी का मटका छूने पर उसको पीटने से हुई उसकी मृत्यु पर निंदा करते हुए आप कार्यकर्ताओं ने ज्वालापुर में अंबेडकर मूर्ति से रेलवे फाटक तक कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष संजय सैनी ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष पश्चात हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। लेकिन वर्तमान में ऊंच नीच जात पात व छुआछूत जैसी संकीर्ण मानसिकता वाले लोग भारत की संप्रभुता को चोट पहुंचा रहे हैं। गुरु को ईश्वर से भी ऊपर का दर्जा दिया जाता है। परंतु राजस्थान में दलित छात्र की मौत गुरु शिष्य परंपरा को कलंकित करती है। समाज में ऐसे घृणित लोगों का कोई स्थान नहीं है। 8 साल के बच्चे के हत्यारे शिक्षक को फांसी की सजा जल्द से जल्द होनी चाहिए और समाज को उसका पुरजोर विरोध करना चाहिए। ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो सके। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार में कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जल्द से जल्द सख्त निर्णय लेना चाहिए और आरोपी को ऐसी सजा देनी चाहिए कि अपराधियों के लिए एक मिसाल बन सके। आम आदमी पार्टी मृतक बच्चे की आत्म शांति के लिए प्रार्थना करती है और दुख की इस घड़ी में उसके परिवार के साथ है। कैंडल मार्च निकालने वालों में शाहीन अशरफ,प्रवीण सिंह,ममता सिंह,राकेश लोहार,सत्येंद्र कुमार, अशोक कुमार,रेखा देवी,शिव कुमार,अकरम,किरण दुबे,विकास भारती,सचिन बेदी,शिशुपाल नेगी, विशाल शर्मा,निर्माण सैनी,गुलशन कुमार,शीतल प्रसाद,अनिल कुमार,संजय गौतम,तेजस्वी, संदीप, अंशु शर्मा,रणधीर सिंह आदि शामिल रहे।