तीन चेन स्नेचिंग की घटना का पुलिस ने किया खुलासा,तीन आरोपी गिरफ्रतार

तीन दुपहिया, चार मोबाईल फोन व चेन के टुकड़े बरामद,पुलिस टीम को नकद ईनाम


 हरिद्वार। शहर के अलग-अलग क्षेत्र में चेन स्नेचिंग की घटनाओं को अंजाम देने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए कनखल पुलिस ने तीन आरोपी दबोचे हैं। चेन स्नेचिंग के अलावा गैंग ने वाहन चोरी और मोबाइल फोन झपटमारी की घटनाओं को भी अंजाम दिया था। तीनों आरोपी सिडकुल में काम करते थे तथा किराए के मकान में रह रहे थे। आरोपी चेन स्नेचिंग के साथ वाहन चोरी व राहगीरों से फोन छीनने की घटनाओं को भी अंजाम दे रहे थे। आरोपियों के कब्जे से चोरी के तीन दोपहिया वाहन, चार चेन और मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। डीआईजी-एसएसपी डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने पुलिस टीम को 25 हजार का नगद इनाम देने की घोषणा की है। थाना कनखल परिसर में खुलासा के सम्बन्ध मे पत्रकारों से वार्ता करते हुए डीआईजी सह एसएसपी डा.योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि काफी समय से चेन स्नेचिंग की घटनाओं को अंजाम दे रहे आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस व सीआईयू की संयुक्त टीम का गठन किया गया। आरोपियों की तलाश में लगी पुलिस टीम पुलिस टीम को बैरागी कैम्प घुडसवार पुलिस लाईन के पास बिना नम्बर की स्कूटी पर तीन संदिग्ध व्यक्ति दिखे। जो किसी आपराधिक घटना को अंजाम देने की फिराक में तथा पुलिस टीम को देखकर सकपका कर भागने का प्रयास करने लगे। लेकिन पुलिस ने उन्हें मौके पर ही दबोच लिया। पूछताछ में उन्होंने अपने नाम  कुलदीप एवं विशाल निवासी ग्राम रघुनाथपुर थाना मण्डावर जिला बिजनौर यूपी तथा सचिन निवासी ग्राम महाराजपुर थाना लक्सर जिला हरिद्वार बताए। तलाशी में उनके पास से स्नेचिंग की घटना में छीनी गयी चेन के टुकड़े बरामद हुए। बिना नंबर की स्कूटी के सम्बन्ध में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि स्कूटी उन्होंने ज्वालापुर क्षेत्र से चोरी की है। सख्ती से की गयी पूछताछ में पता चला कि आरोपी चेन स्नेचिंग के साथ वाहन चोरी की घटनाओं को भी अंजाम दे रहे थे। आरोपियों की निशानदेही पर सिडकुल स्थित गढ़वाली रसोई के पास एक मकान से दो बाईक बरामद की गयी। मकान की तलाशी लेने पर राहगीरों से छीने गए चार मोबाईल फोन भी बरामद हुए। एसएसपी ने बताया कि तीनों आरोपी पढे लिखे है। आरोपी कुलदीप ने प्लास्टिक इंजीनियरिंग में 3 वर्ष का डिप्लोमा किया है और सिडकुल स्थित लक्जर पैन फैक्ट्री में काम करता है। विशाल व सचिन 10वीं पास है तथा ठेकेदार के अंतर्गत हैमिल्टन कम्पनी में कार्य करते है। तीनों शौक पूरे करने के लिए स्नेचिंग व वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। आरोपियों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है। पुलिस टीम में थाना कनखल प्रभारी मुकेश सिंह चौहान, एसएसआई अभिनव शर्मा,जगजीतपुर चौकी प्रभारी एसआई खेमेंद्र गंगवार,कांस्टेबल  बलवंत सिंह,निर्मल सिंह,सत्येन्द्र रावत,प्रदीप,पाल सिंह,विकटेश्वर,भादूराम वर्मा,सीआईयू कांस्टेबल सुन्दर व वसीम शामिल रहे।